बाबा रामदेव के गीत

खम्मा खम्मा हो म्हारी रुणिचे रा धनियां
थाणे मनावे सारो माडवाड हो सारो गुजरात हो
अजमलजी रा कंवरां…खम्मा खम्मा हो म्हारा…..

पेलो पेलो परचो रतन रायका न दीनो-२
कोई लूण री मीश्री बनाई धनियां-२ अजमलती रा …

दूजो दूजो परचो भोला बणिया ने दीनो-२
कोई डूबता री नाव तिराई धनियां-२ अजमलती रा …

तीजो तीजो परचो नेतल राणी ने दीनो-२
कोई होले स्युं भाण्डो जिवायो धनियां-२अजमलती रा …

पांचवो तो परचो पाचु पीरां मे थे दीनो-२
कोई मक्का स्युं कटोरे,मंगाये धनियां-२ अजमलती रा …

कई आंधलियां ने आंख्यां दिया पांगलिया ने पाव जी
कई कोढियां का कोढ मिटाया धनियां-२ अजमलती रा …

और सवामणी को लगावां थारै भोग आज….मेरे….
भक्त लोक बाबा तेरा ध्यान लगावे
पूनम दिन को बाबा तेरा उत्सव मनावे
और लगी है भीड अपार आज मेरे…मेरे…

 

Line

 

बड़े रूणीचे धाम ओ बाज रया बाजा,
म्हारी अरज सुनो सरकार रामदेव राजा ।।

भक्ति कीनी अजमलजी ने भारी,
तुम प्रकट भये अवतार सुदर्शन धारी,
जय जय बोले नर नार होत आवाजा ।। म्हारी ।।

किया बोलता याद जहाज बाकी तारी,
चोपड़ रमता रमता भुजा पसारी,
राखी भक्त की लाज सार दिये काजा ।। म्हारी ।।

दलजी बनके माय विपद भई भारी,
दियो सेठ न माल याद करे थारी,
होय लीले असवार आये महाराजा ।। म्हारी ।।

लख बिणजारो भार से मिसरी लायो,
वो बोलो आपसे झूठ नहीं शरमायो,
मिसरी पलट भयो नून आप रखी लाजा ।। म्हारी ।।

चेताराम गुरुदेव भेद बतलाया,
प्रभु किजो मेरी सहाय आपको ध्याया,
कर जोड़करे परणाम द्वार है साजा ।। म्हारी ।।

 

Line

 

हे रुनिचे रा धणिया, अजमल जी रा कँवरामाता मेनांदे रा लाल, राणी नेतल रा भरथारम्हारो हेलो सुणोजी राम पीर जीहो म्हारो हेलो सुणोजी राम पीर जी

हे रुनिचे रा धणिया, अजमल जी रा कँवरामाता मेनांदे रा लाल
राणी नेतल रा भरथारम्हारो हेलो सुणोजी राम पीर जीहोजी म्हारो हेलो सुणोजी राम पीर जी

घर घर होवे पुजा थारी गाँव गाँव यश गावे जी।
रुनिचे रा रामदेवजी सुता हो तो आवो जी।।

मेडी में ज्योत जगावा, मनडे रा फूल चढावाहे रुनिचे रा धणिया, अजमल जी रा कँवरामाता मेनांदे रा लाल
राणी नेतल रा भरथारम्हारो हेलो सुणोजी राम पीर जीहो म्हारो हेलो सुणोजी राम पीर जी

दास करे अरदास पीरजी डंस गयो काळो नाग जी।।
मरतोडा ने जीवदान दो, जीता ने वरदान जी।।

धन्य धन्य भाग विधाता, थने घनी खम्मा अन्नदाताहे रुनिचे रा धणिया, अजमल जी रा कँवरामाता मेनांदे रा लाल
राणी नेतल रा भरथारम्हारो हेलो सुणोजी राम पीर जीहो म्हारो हेलो सुणोजी राम पीर जी

हे रुनिचे रा धणिया………………..

 

Like Baba Ramdev Ji Page on Facebook (Click on LIKE Button)

 

 

Line