menu
Back
Gyan Ganga Hostal Marwad Jangtion Pali

       राजस्‍थान के पाली जिले की मारवाड़ जक्‍शन तहसील व उपखण्‍ड मुख्‍यालय पर सोजत गोड़वाड़ पट्टी के रैगर समाज बन्‍धुओं ने आम राय से करीबन 40 वर्ष पूर्व समाज हित में एक पंचायत भवन बनाने का निर्णय लिया गया । जिसमें समाज के गणमान्‍य लोगों द्वारा मारवाड़ जंक्‍शन में 5300/- रूपये में एक बना हुआ पक्‍का मकान खरीदा । इस की सोजत व गोड़वाड़ पट्टी के नाम दिनांक 11-09-1968 में एक सौ पच्‍चाणवे रूपयें रजिस्‍ट्ररी हुई । इसके बाद दोनों पट्टियों के पंचों ने एक पंचायत हाल का निर्माण करवाया उसके पश्‍चात यहां कई बार बैठक आयो‍जीत होती रही अैर यह भवन समाज की सामाजिक गतिविधियों के लिए उपयोग लिया जा रहा था । 2008 में एक बेठक आयोजित हुई जिसमें शिक्षा के लिए इस भवन को उपयोग में लेने के लिए निर्णय लिया गया । दिनांक 20 मई 2008 को सोजत व गोड़वाड़ पट्टी की विशेष बैठक हई जिसमें उसमें समाज के पंचों ने सामज में शिक्षा का अलख जगाने के लिए प्रस्‍ताव पास हुआ जिसमें प्रथम प्रस्‍ताव में पंचायत भवन के पीछे के कमरों की जगह छात्रावास का निर्माण करवाने का निर्णय लिया गया । उस कार्य को मूर्त रूप देने में दोनों पट्टियों के पंचों ने बराबर राशि खर्च कर छात्रावास निर्माण करने का निर्णय लिया गया । इस निर्णय को साकार रूप में परणित करते हुये समाज के लोगों ने दृढ़ इच्‍छा शक्ति से शिक्षा को बढ़ावा देने में अपने मन से चन्‍दा राशि देकर इसमें सहयोग किया । दोनों पट्टियों के पंचों ने इस कार्य को पूर्णरूप से पूरा करने हेतु समाज के लोगों से श्री ज्ञानगंगा छात्रावास (सोजत व गोड़वाड़ पट्टी) द्वारा छात्रावास निर्माण हेतु चन्‍दा रसीद बुक स्‍थान रैगर समाज भवन मारवाड़ जंक्‍शन जिला पाली के नाम रसीदे जारी कर चन्‍दा राशि एवंम् दोनों पट्टियों के पंचों द्वारा बराबर राशि खर्च कर करीब 10 कमरों का छात्रावास निर्माण करवाया गया । छात्रावास के निर्माण में समाज के गणमान्‍य लोगों का सहयोग रहा छात्रावास में 10 कमरे में 2 शोचालय एवं दो स्‍नानाघर मय बारामदा का निर्माण करवाया । जिसमें अब तक 12 लाख रूपये का खर्च हुआ है । छात्रावास बनकर तैयार हो गया बहुत ही परिश्रम के बाद समाज के लोगों की ईच्‍छा भी पूर्ण हुई ।

 

 

 

 

 

(साभार- रैगर ज्‍योति मासिक पत्रिका : मई - जून 2011)

 

 

पेज की दर्शक संख्या : 2229