Raigar Community Website Admin Brajesh Hanjavliya, Brajesh Arya, Raigar Samaj Website Sanchalak Brajesh Hanjavliya
Matrimonial Website Link
Website Map

Website Visitors Counter


Like Us on Facebook

Raigar Community Website Advertisment
Raigar News Zone
Raigar News Logo Raigar News Logo Raigar News Logo Raigar News Logo

Raigar Samaj News Logo

Raigar Community News slogan

Regar Samaj News Regar Samaj News Regar Samaj News Regar Samaj News

 

वर्ष 2015 की खबरें पढ़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करे

 

 

वर्ष 2014 की खबरें

Bullet Hide Raigar News चित्‍तोड़गढ में रैगर समाज के 11 जोड़ों का विवाह सम्‍मेलन सम्‍पन्‍न(03-11-2014)

Raigar marriage Sammelan chittorgarh

मेवाड़ रैगर समाज प्रगतिशील सेवा संस्थान जिला शाखा चित्तौड़गढ़ एवं मेवाड़ रैगर समाज सेवा समिति चित्तौड़गढ़ रैगर समाज सभा मण्डल आसावरा माता के संयोजन से 11 जोड़ो का आर्दश सामुहिक विवाह समाहरों दिनांक 03.11.2014 को बी.एल. नवल समाज छात्रावास गांधी नगर चित्तौड़गढ़ में श्री एवं श्रीमति बाल चन्द मोहनपुरिया की अध्यक्षता तथा श्री पी.एल. जलुथरिया ( पूर्व न्यायधीश) की मुख्य अथिती में सम्पन्न हुआ । राजस्थान के विभिन्न जिलों से समाज के महानुभवों अतिथी के रूप में शामिल हुऐ । चित्तौड़गढ़ के विधायक श्री चन्द्रभान सिंह जी आक्या ने वर-वधु को आर्शीवाद स्वरूप प्रति जोड़ा 1000/- राशि तथा समाज में प्रगति एवं विकास हेतु आवश्यक सहयोग कर आश्वासन दिया । शहर भा.ज.पा. अध्यक्ष श्री सुरेश चन्द्र झवंर एवं प्रधान महोदया भदेसर श्रीमति चन्द्री बाई भी उपस्थित थे ।
समाज के प्रबुध जनों में से सेवा निवृत प्रो. एन. एल. शेर, श्री सीताराम जी मौर्य भण्डारेज दौसा, श्री नानुराम जी आर्टिया सांगरिया भीलवाड़ा, श्री मिठुलाल उच्चेनिया भीलवाड़ा , श्री नाना लाल जी चगंरीवाल उदयपुर, श्री रामरतन सेरासिया म.प्र., श्री बाबु लाल जी डडवाड़िया बिजयनगर, श्री गोपी लाल मुण्डातिया शाहपुरा, श्री अम्बा लाल सरेसिया, श्री रामचन्द्र जाटोलिया, श्री धनराज बड़ारिया, श्री मोहन लाल ढिढोरिया, श्री कन्हैया लाल जी आर्टिया (DEO) श्री भॅवर लाल पुर्व (DEO), www.theraigarsamaj.com संचालक श्री ब्रजेश हंजावलिया मन्दसौर (म.प्र.) आदि शामिल हुए ।
इनका स्वागत श्री राम चन्द्र पलिया, श्री चोथमल रेड़िया, श्री प्यारे लाल जलुथरिया, श्री जानकी लाल टोलिया, श्री विमल कुमार डडवाड़िया, श्री भजु लाल हिनोणिया, श्री श्याम लाल ऐलिया, श्री तेजपाल सुकरिया, श्री चतरभुज भाकरिवाल, श्री कन्हैया लाल मोहनपुरिया, श्री रामचन्द्र आर्टिया, श्री नारू लाल शेरसिया, श्री किशन लाल हनजावलिया, श्री लाभ चन्द मोहिल, श्री कालु राम जाबड़ोलिया, श्री कालुराम माछलपुरिया, श्री कालु राम तरूगलिया, श्रीमति ममता बालोटिया, श्रीमति तुलसी आरटिया, श्रीमति संध्या देवी, श्रीमति गगेश्वरी रेड़ीया, आदि ने किया ।
समारोह के कवरेज हेतु प्रमुख अखबार एवं टीवी चेनल, के पत्र कारो के साथ-साथ श्री उमेश जी पिपली वाल ( रैगर रक्षक), श्री जगदीश जी सोनवाल (भारत दशा), श्री सुखदेव जी आर्टिया (रैगर रोशनी), श्री मदन लाल सिघाड़िया (सहारा टीवी) आदि उपस्थित रहे ।
समिति की ओर से वर-वधुओ को घर के आवश्याक बर्तन के साथ लोहे का बॉक्स पंलग व टेबल-कुसीया, वर-वधुओं को कपडे, बिस्तर सेट, हाथ कि घड़ी आदि प्रदान कि गई ।
पाणीग्रहण संस्कार गायत्री परिवार बड़ी सादड़ी एवं चित्तौड़गढ़ के उपआर्चाय श्री जगदीश जी जोशी , श्री रमेश चन्द्र मोहिल एवं श्री किशन लाल रेड़िया ............. आदि ने सम्पन्न कराया । संचालन श्री चोथमल रेड़िया , श्री नाना लाल चगेरिवाल ने किया ।

Bullet Hide Raigar News राजस्थान रैगर समाज विकास समिति, जयपुर का दीपावली स्नेह मिलन समारोह(01-11-2014)

Raigar Deepawali Milan Samaroha

जयपुर : राजस्थान रैगर समाज विकास समिति, मानसरोवर मालवीय नगर, जयपुर का दीपावली स्नेह मिलन समारोह दिनांक २६ अक्टूबर, २०१४ को यहाँ मालवीय नगर सेक्टर ५ स्थित सामुदायिक केंद्र में संपन्न हुआ. समारोह में रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम के साथ ही प्रतिभावान छात्र-छात्राओं को सम्मानित किया गया. ।
प्रारम्भ में समिति के सचिव श्री घासी राम गुसाईवाल ने आगंतुक अतिथियों का स्वागत किया. समिति के अध्यक्ष श्री नरेश ठागरिया ने समिति समाचार के वाचन के अलावा वर्ष भर की गतिविधियों का ब्यौरा प्रस्तुत किया. ।
समारोह में जिन प्रतिभाशाली विद्यार्थियों को प्रशस्ति पत्र प्रदान किये गए वे हैं - पिंकी बच्चन, स्वाति चाँवत, कल्पित फुलवारिया, अभिनीत जाटोलिया, कल्पना गजराज, डा. अनिशा मोहनपुरिया, अविनाश मौर्या, नेहा नवल, प्रमोद नवल, अमित कुमार वर्मा, नीलम ठागरिया, निकिता वर्मा, रवि फुलवारिया, ऋतू जाटोलिया, जितेश जाटोलिया, पूजा गढ़वाल, कुमकुम मौर्या, अमित गढ़वाल, शिखा जाटोलिया, ईशा नारोलिया, खुशबू और मीनू वर्मा. ।
श्री शिव कुमार बाकोलिया, डॉ एस. के. मोहनपुरिया, विमला डिगरवाल और जयश्री जाटोलिया तथा लक्ष्य बच्चन का गायन समारोह का प्रमुख आकर्षण रहा. इसके अलावा ग्रेसी फुलवारिया ने वायलिन वादन, मुस्कान बच्चन ने सरस्वती वंदना, रिंकू चाँवत और तेजस्विनी मोहनपुरिया ने एकल नृत्य और दिव्यांशी तथा आयुषी जोलीया ने समूह नृत्य प्रस्तुत किया. श्रीमती नीलम ठागरिया और श्री जगदीश कुलदीप ने कविता पाठ किया. ।
इस अवसर पर दो नव दम्पतियों राजेंद्र फुलवारिया-प्रियंका फुलवारिया और कमल सिंगाड़िया-लता सिंगाड़िया का अभिनन्दन भी किया गया. समारोह के अंत में समिति के उपाध्यक्ष जगदीश फुलवारिया ने आभार व्यक्त किया. कार्यक्रम का संचलान श्री प्रेम भारती ने किया. इस मौके पर आकर्षक आतिशबाज़ी भी की गयी जिसने सभी का मन मोह लिया ।

Bullet Hide Raigar News धर्मगुरू श्रीश्री 108 स्‍वामी ज्ञानस्‍वरूप जी महाराज का 120 वाँ जन्‍मोत्‍सव समारोह सम्‍पन्‍न(19-10-2014)

दिल्‍ली करोलबाग स्थित विष्‍णु मंदिर में रविवार 19 अक्‍टूम्‍बर 2014 को धमगुरू श्री श्री 108 स्‍वामी ज्ञानस्‍परूप जी महाराज का 120 वाँ जन्‍मोत्‍सव समारोह मनाया गया । जन्‍मोत्‍सव समारोह में विष्‍णु मंदिर की वेबसाईट www.srivishnumandirraigarsamaj.com का उद्घाटन एवं ज्ञान भजन प्रभाकर को पाँचवें नयें संस्‍करण का निशुल्‍क वितरण भी किया गया । विष्‍णु मंदिर की वेबसाईट का उद्घाटन योगेन्‍द्र चान्‍दोलिया महापौर उत्‍तरी दिल्‍ली नगर निगम के कर कमलों द्वारा किया गया एवं डॉ. मुक्तेश चन्‍द्र गाडेगावलिया (आई.पी.एस.) स्‍पेशल कमीशनर ऑफ पुलिस यातायात दिल्‍ली एवं रविन्‍द्र कुमार गुप्‍ता उपमहापौर उत्‍तरी दिल्‍ली नगर निगम के सानिध्‍य में एवं करोलबाग के समाजसेवियों के समक्ष किया गया । साथ ही इस समारोह में स्‍वामी मौजीराम सत्‍संग सभा ट्रस्‍ट (रैगर समाज) पंजी. द्वारा प्रकाशित ज्ञान भजन प्रभाकर के पाँचवें नये संस्‍करण का नि:शुल्‍क वितरण भी किया गया । समारोह में विष्‍णु मंदिर के सौंदर्यीकरण के विशेष सहयोगियों का अभिनन्‍दन किया गया । सत्‍संगी कार्यकर्ताओं एवं महिलाओं का अभिनन्‍दन किया गया । समारोह में सत्‍संग का आयोजन किया गया एवं भण्‍डारे की व्‍यवस्‍था की गई । कार्यक्रम को सफल बनाने में ट्रस्‍ट के पदाधिकारि यतीन्‍द्र कुमार मोहनपुरिया प्रधान, लाजपतराय कानखेडिया महामंत्री, पुरूषोत्‍म लाल कानखेडिया कोषाध्‍यक्ष, प्रभु दयाल तोणगरिया उप-प्रधान, भगवानदास नंगलिया कार्यालय मंत्री मंच का विशेष योगदान रहा । मंच का संचालन सुभाष चन्‍द्र कानखेडिया मंत्री ने किया ।

Bullet Hide Raigar News रैगर समाज की 400 प्रतिभाएं सम्मानित(16-08-2014)

Raigar samman samaroha Jaipur Raigar Nave Nirman Mahasamiti

सामूहिक गोठ का भी आयोजन हुआ, प्रदेशभर से हजारों लोगों ने की शिरकत        जयपुर । रैगर समाज नवनिर्माण महासमिति की ओर से श्री विष्णु मैरिज गार्डन, हीरापुरा, अजमेर रोड़, जयपुर में प्रतिभा सम्मान समारोह एवं सामूहिक गोठ का आयोजन किया गया । समारोह में सैकंडरी एवं सीनियर सैकंडरी परीक्षा में 70 प्रतिशत अंक लाने वाली छात्राओं और 75 अंक प्राप्त करने वाले छात्रों तथा राजकीय सेवा में चयनित प्रदेशभर की करीब 400 प्रतिभाओं को सम्मानित किया गया ।
महासमिति के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष फूलचन्द बिलोनिया ने बताया कि समारोह के मुख्य अतिथि पूर्व विधायक बाबूलाल सिंगारिया थे । कार्यक्रम की अध्यक्षता महासमिति की राष्ट्रीय अध्यक्ष अंजूरानी कराड़िया ने की । विषिष्ट अतिथि सेवानिवृत्त अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक पी.एन. रछौया, कांग्रेस नेता डॉ. प्रहलाद रघु, आरपीएस लोकेश सोनवाल आदि होंगे । समारोह में महासमिति के राष्ट्रीय महासचिव रामस्वरूप रातावाल, प्रदेषाध्यक्ष लादूराम दुलारिया, उपाध्यक्ष रामदयाल सोनवाल, महासचिव मनोहर उज्जैनिया, मध्यप्रदेश युवा प्रकोष्ठ के प्रदेशाध्यक्ष बृजेश हंजावलिया - संचालक रैगर समाज वेबसाईट (www.theraigarsamaj.com), जयपुर जिलाध्यक्ष कानाराम रैगर, युवा प्रकोष्ठ के प्रदेशाध्यक्ष नीरज तोणगरिया, जिलाध्यक्ष सुरेश आलोरिया, राष्ट्रीय उपसचिव ओमप्रकाश बाकोलिया, नेतराम तोणगरिया, संयुक्त सचिव प्रेमकुमार धौलपुरिया, अजमेर जिलाध्यक्ष जगदीष मण्डरावलिया, दौसा जिलाध्यक्ष श्रवणलाल नीचिया, लेखाधिकारी राजेन्द्र प्रसाद रैगर सहित समाज के अनेक पदाधिकारियों एवं गणमान्य लोगों ने अपने विचार व्यक्त किए । इस अवसर पर आयोजित गोठ में समाज की प्रतिभाओं के साथ हजारों लोगों ने शिरकत कर भोजन प्रसादी ग्रहण की ।

Bullet Hide Raigar News मन्‍दसौर (म.प्र.) में गुरू पूर्णिमा पर भण्‍डारे का अयोजन(12-07-2014)

Raigar samman samaroha Jhalawar

       मन्‍दसौर (म.प्र.) 12 जूलाई 2014 - मन्‍दसौर हीरा की बगीची स्थित रैगर समाज के गुरू ''नाथ योगी गुरू कनीराम जी महाराज के आश्रम'' पर गत् वर्ष की तरह इस वर्ष भी हर्षोउल्‍लास के साथ गुरू पुर्णिमा पर्व मनाया गया इस शुभ अवसर पर पुर्णिमा की पुर्व संध्‍या रात्रि पर भजन संध्‍या का अयोजन किया गया जिसमें 28 संत महात्‍माओं ने भजन र्कितन के साथ रात्रि जागरण करते हुए सुबह 5 बजे तक भजन र्कितन किये तत्पश्‍चात् गुरू पुर्णिमा की प्रभात काल से ही भक्‍त जन आश्रम में गुरू कनी राम जी महाराज के दर्शन हेतु अनेको की संख्‍या में पधारे । प्रात: 12.30 बजे गुरू कनीराम जी महाराज की आरती का आयोजन किया गया, महाआरती के पश्‍चात् भव्‍य भण्‍डारे का आयोजन प्रारम्‍भ किया गया जिसमे पांच पकवान बनाए गए, इस भण्‍डारे में लगभग 1000 से भी अधिक लोगों ने भाग लिया इस भण्‍डारे का सम्‍पूर्ण खर्च गुरू जी के इन्‍दौर निवासी भक्‍त श्री वेंकटा सीता रामा राव जी (रामराव जी) ने किया । जो कि आंध्रा के निवासी है व इन्‍दौर में परमाणु ऊर्जा िवभाग में वैज्ञानिक सहायक के पद पर कार्यरत है । राव जी ने गत वर्ष भी भण्‍डारे का अयोजन करवाया था इस आश्रम में रोज़ाना पुजा अर्चना श्री रमेश जी आर्य और मुकेश आर्य द्वारा की जाती है ।
इस कार्यक्रम में श्री बसंती लाल जी बाकोलिया को विशिष्‍ट अतिथियों के रूप में आमत्रित किया गया कार्यक्रम में श्री गणेश चन्‍द्र आर्य, श्री किशनलाल हंजावलिया, श्री महेश आर्य, अशोक मार्य, ब्रजेश हंजावलिया सहित सम्‍पर्ण मन्‍दसौर निवासी रैगर समाज के महानुभावों ने भाग लिया । इस कार्यक्रम की आयोजन व्‍यवस्‍था करने में महत्‍वपूर्ण भूमिका श्री रमेश आर्य (कामोत्‍तर), मुकेश जी आर्य, योगेश जी, राव रामाराव जी व ब्रजेश हंजावलिया निभाई गई । गुरू देवाय नम:

Bullet Hide Raigar News अखिल भारतीय रैगर महासभा की अपील(06-2014)

        अखिल भारतीय रैगर महासभा कि साधारण सभा कि बैठक श्री टी.आर. वर्मा कि अध्‍यक्षता में हुई, दिनांक 23.07.2013 में पारित संविधान संशोधन विधान कि धारा 8(3) को विलोपित करते हुए इसमें किये गए संशोधन महासभा के प्रतिनिधि सदस्‍यों कि संख्‍या असीमित रखा जायें कि पालनार्थ हेतु महासभा कि हुई बैठक दिनांक 21.07.2013 जिसमें प्रदेशाध्‍यक्षों, जिलाध्‍यक्षों, युवाप्रकोष्‍ठाध्‍क्ष कि उपस्थिति में साधारण सभा द्वारा पारित प्रस्‍ताव संविधान संशोधन कि कार्यवाही महामंत्री श्री ताराचन्‍द जाजोरिया ने पढ कर सुनाई जिसकों उपस्थित मान्‍य सभी सदस्‍यों ने सर्वसम्‍मत अनुमोदित किया गया था । तत्‍पश्‍यात् संविधान संशोधन कि हु-बहु, प्रति श्री मान रजिस्‍ट्रार सोसायटिज एवं फर्मस इन्‍डस्‍ट्रीयल एरिया, दिल्‍ली - 1100092 को प्रमाणित कराने हेतु दिनांक 12.08.2013 को व्‍यक्तिगत तौर से प्रेषित कर दी गई है ।
दिनांक 21.07.2013 कि उक्‍त बैठक में अध्‍यक्ष महोदय ने प्रस्‍ताव रखा था कि महासभा के असीमित सदस्‍य बनाने हेतु प्रदेशाध्‍यक्ष, जिलाध्‍यक्षों व युवाप्रकोष्‍ठ अध्‍यक्ष को दो-दो रसीद बुकें व महासभा पारित सदस्‍य फार्म जो कोषाध्‍यक्ष्‍ा के पास है अपने नाम हस्‍ताक्षर करके ले जावे जो स्‍त्री, पुरूष समाज सेवी निर्धारित सदस्‍य आजीवन सदस्‍य शुल्‍क के रूपये 1100 रूपये लेकर जिसकी उम्र 18 वर्ष से अधिक हो निर्धारित फार्म भर कर रसीद दी जाय ।
महासभा के सभी प्रदेशाध्‍यक्षों, जिलाध्‍यक्षों व युवाप्रकोष्‍ठ अध्‍यक्ष खेद के साथ लिखना पड़ रहा है कि सदस्‍यता अभियान को चालू किये गए लगभग 10 माह व्‍यतित हो चुके है परन्‍तु अभी तक इस अभियान को कार्यान्वित करने में लगभग महासभा के सभी प्रदेशाध्‍यक्षों, जिलाध्‍यक्षों व युवाप्रकोष्‍ठ अध्‍यक्ष इस कार्य में शीथलता बरत रहे हैं कार्य सुचारू रूप से नहीं किया जा रहा है जिसे समाज के उन सदस्‍यों कि भावनाओं को ठेस पहुँच रही जो शुल्‍क देकर महासभा के सदस्‍य बनकर संगठन को मजबूती प्रदान करना चाहते है ।
आप सभी से आग्रह है कि कृपया जिन-जिन उक्‍त पदाधिकारियों ने रसीद बुके ली है कितने सदस्‍य बना लिए गये है, बने हुए सदस्‍यों का शुल्‍क कोषाध्‍यक्ष श्री रामपाल उच्‍चैनिया मोबाईल 9414052605 को जमा कराये और जो जमा किया गया है कि सूचना निम्‍नहस्‍ताक्षरकर्ता महासचिव को अवश्‍य अवगत करावें ।
अगर आप सदस्‍य बनाना चाहते है और आपको सदस्‍यता फार्म, रसीद बुके आपको किसी कारणवश उपलब्‍ध नहीं हो पा रही है तो कृपया आप हमें सूचति कर फार्म रसीद बुके प्राप्‍त कर सकते है अत: शीघ्रता से शीघ्र इस अभियान को ज्‍यादा से ज्‍यादा सदस्‍य बनाकर बनावें ।
महासभा के सभी प्रदेशाध्‍यक्षों, जिलाध्‍यक्षों व युवाप्रकोष्‍ठ अध्‍यक्ष अखिल भारतीय रैगर महासभा केा भेजकर लेख है कि पत्र प्राप्‍ती के 15 दिन के अन्‍दर आप सदस्‍य अभियान का प्राथमिकता के आधार पर चालू करके अवगत कराने का श्रम करे ।
साभार : रैगर ज्‍योति , जुलाई अंक

Bullet Hide Raigar News NSG BLACK CAT COMMANDO बन समाज को किया गोरवांवित(22-04-2014)

NSG Black Cat Commando Indrajeet Gotwal Raigar

        आत्म विश्वास से लबरेज और मासुमियत सी मुस्कुराहट भरा चेहरा मंजिल दर मंजिल लक्ष्य को साधने की जीवटता लिए चमकती आंखे । छः फुट से निकलता हुआ छरछरा वदन, चौडे सीने और सघे कदम, ये रेम्प पर प्रर्दशन के लिए आये किसी मॉडल का विवरण नहीं बल्कि रैगर समाज के ही एक होनहार और प्रतिभाशाली युवक का परिचय मात्र है । जिसने अपनी लग्न, मेहनत और शौर्य के बल पर न केवल अपने केरियर में नित नई ऊंचाईयो को छुआ, बल्कि रैगर समाज का सर भी गर्व से ऊंचा कर दिया ।
26 मार्च 1984 को टोंक जिले के देवली तहसील के एक छोटे से गांव जलसीना मे जन्मे मेजर इन्दजीत गोढवाल, टोंक जिले में रैगर समाज के प्रथम कमिशन्ड ऑफिसर बने । भारतीय नौ सेना में एवं कस्टम विभाग में अधिकारी रहे स्व0 श्री दुर्गालालजी के यहा जन्में नन्है इन्द्रजीत की किलकारी आज दहाड़ बन चुकी है, जिसे सुनने मात्र से देश के दुश्मनो के छक्के छुट जाते है । माता श्रीमति मधुलता के दूध की ताकत को उन्होनें कभी कमजोर नहीं होने दिया ।
       जी हां यहां समाज को बताते हुए अत्यन्त गर्व को रहा है कि समाज के युवा रत्न मेजर इद्रजीत गोढवाल वर्तमान में भारतीय सेना के अन्तर्गत राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड ( NSG BLACK CAT COMMANDO) जैसी उच्चतम रक्षा सेवा में रहते टोंक जिले के पहले BLACK CAT COMMANDO बनने का गौरव रैगर समाज को दिलाया हैं ।
       बचपन से ही होशियार इन्द्रजीत तीनों बहनों सुनिता, अनिता, उर्मिला व भाई रणजीत से हर गतिविधि व शिक्षा के क्षैत्र में उज्वल रहे है । जोधपुर जिले के फलोदी शहर में प्राथमिक शिक्षा के बाद मिलिट्री स्कूल अजमेर में चयनित हो कर 1994 से 2001 तक सैन्य एवं शैक्षाणिक गतिविधियों में महारथ हासिल की ।
       2001 से 2004 तक जय नारायण व्यास यूनिवर्सिटी से बी कॉम स्नात्तक करने के पश्चात वर्ष 2005-06 में एम कॉम (Economics) में स्वर्ण पदक अर्जित कर पुनः समाज को गौरान्वित किया ।
       2006 मे भारतीय सेना में चुने गये एवं ऑफिसर ट्रेनिंग अकादमी ( O.T.A Chennai ) में दिन रात कठिन प्रशिक्षण प्राप्त कर 22 सितम्बर 2007 में लेफ्टनेंट के पद पर माहार रेजिमेन्ट की 9 वीं बटालियन में कमिशन्ड हुए । अपने शैक्षणिक काल में खेल कि गतिविधियो में भी अग्रिम रहते हुए हॉकी, फुटबाल व बॉक्सीग की राष्ट्रीय प्रतिस्पर्धा में धाक जमाई ।
       9वीं बटालियन माहार रेजिमेन्ट के इस अफसर की 22 अप्रैल 2014 को कैप्टन से मेजर के पद पर पदोन्नति हुई । इसी दौरान उन्हे बेस्ट ऑफिसर के लिए डी जी कमैन्डेशन (D.G Commendation) भी प्रदान किया गया ।
       वन्दनीय है स्वर्गीय श्री दुर्गालाल जी गोढवाल जिन्होने समय की नजाकत को समझते हुए अपने दोनो पुत्र इन्द्रजीत एवं रणजीत गोढवाल (LIC में अधिकारी ) को पढा लिखा कर इस काबिल बनाया कि रैगर समाज उन पर गर्व करें ।
       उन्होने न केवल पुत्रों को बल्कि पुत्रियों को भी बराबरी का दर्जा देते हुए उच्च शिक्षा दिलवाई जिनकी बदौलत आज उनकी पुत्रियां भी शिक्षा विभाग में राजकीय सेवा में कार्यरत है ।
       मेजर इन्द्रजीत गोढवाल के अब तक के कीर्तिमान में उनकी धर्म पत्नि श्रीमति सोनम वर्मा का भी बहुत बडा सहयोग रहा है एवं कुछ माह पुर्व ही इन्हे पुत्ररत्न की प्राप्ति हुई । हम मेजर इन्द्रजीत गोढवाल एवं उनके परिवार को इन उपलब्घियों पर उन्हें हम हद्वय से ढेरों शुभकामनाएं देते है ।

Bullet Hide Raigar News रामदेवरा रैगर समाज धर्मशाला में कमरे बनवाने के लिए दानदाताओं से अपील(04-2014)

Akhil Bhartiya Raigar Samaj Dharamshala Ramdevra

        अखिल भारतीय रैगर समाज धर्मशाला रामदेवरा में दानदाताओं द्वारा पूर्व में कमरे बनवाकर योगदान किया गया था । धर्मशाला के कमरे क्षतिग्रस्‍त हो चुके हैं । क्षतिग्रस्‍त कमरों से किसी भी वक्‍त बहुत बड़ी दुर्घटना घट सकती है । महान दानदाताओं से निवेदन है कि आप लोगों के द्वारा बनाए गये कमरों पर लगी शिलालेख पर नाम गौत्र ही अंकित है । उन पर आप लोगों का पूर्ण पता व सम्‍पर्क नम्‍बर नहीं होने के कारण संस्‍था पदाधिकारियों द्वारा आपको व्‍यक्तिगत सूचना करना सम्‍भव नहीं हो पा रहा है ।
       समाज बंधुओं अपको यह जानकर अत्‍यंत हर्ष होगा कि जनवरी 2014 से रैगर धर्मशाला रामदेवरा में एयर कंडिशन कमरों का निर्माण कार्य शुरू हो चुका है ।
       पूर्व में भी आप सभी दानी सज्‍जनों द्वारा बनवाये गये कमरे, सत्‍संग भवन, जिसमें 24 घन्‍टे बिजली, पानी की भरपूर व्‍यवस्‍था है, दिल्‍ली बम्‍बई, राजस्‍थान, हरियाणा, पंजाब आदि राज्‍यों रैगर समाज के दानदाताओं द्वारा कमरों का निर्माण कराकर समाज को समर्पित किया व समयानुसार धर्मशाला को पूर्ण रूप से सहयोग मिलता रहा आपके इस योगदान को भुलाया नही जा सकता ।
       आपसे अपील की जाती है कि आप लोग उक्‍त कमरों की जगह पनु: कमरे की मरम्‍मत करवाई जाये या पुन: जीर्णोद्वार आप लोगों द्वारा करवाया जाये अन्‍यथा किसी भी अन्‍य दानदाताओं द्वारा क्षतिग्रस्‍त कमरों का पुन: रिपेयरिंग या जीर्णोद्वार करवाने वाले दानदाता का भी शिलालेख लगवा दिया जायेगा जिन कमरे पूर्व में बनाने वाले दानदाताओं से निवेदन है कि आपके द्वारा या आपके पूर्वजों द्वारा बनाये गये कमरों, बरामदों या सत्‍संग भवन को पुन: बनाने के लिए योगदान करे । ताकि आपकी शिलख एवं आपके माता - पिता की फोटो लगा सकें । अन्‍यथा कार्यकारिणी जीणक्षीण कमरों का अन्‍य किसी दानदाताओं से पुन: निर्माण करवाया जायेगा जिसमें भी शिलालेख लगाई जायेगी । इसमें आपके द्वारा वाद - विवाद मान्‍य नहीं होगा ।
       आप सभी भक्‍तों की सुविधाओं को ध्‍यान में रखते हुए इस नवनिर्माण कार्य में व्‍यक्तिगत कमरों का निर्माण कराकर या अधिक से अधिक दान देकर पुण्‍य के भागी बने । व्‍यक्तिगत कमरा बनवाने वाले दानी सज्‍जन के नाम का पत्‍थर कमरे पर व उनके पूर्वजों की फोटों कर कमरे के बाहर लगवाई जायेगी व कम से कम 5100/- रूपये या इससे अधिक का दान देने वाले दानी सज्‍जन का नाम शिलालेख पर अंकित किया जायेगा ।
       पूर्व में हमारी अखिल भारतीय रैगर समाज धर्मशाला रामदेवरा (पंजी.) में दानदाताओं के सहयोग से 72 कमरे बनवाकर साध्‍वी श्री बालकदास जी महाराज ने बनवाकर समाज को समर्पित किया था, मगर वो धर्मशाला क्षतिग्रस्‍त होने के कारण कभी भी अप्रिय घटना घट सकती है । इसी फलस्‍वरूप कार्यकारिणी ने राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष श्री नेतराम पिंगोलिया के नेतृत्‍व में विचारविमर्श कर आम सभा में प्रस्‍ताव पारित कर इतिहास में पहली बार भव्‍य धर्मशाला का कार्य गत् 6 जनवरी 2014 से कार्य प्रगति पर है । इसी के फलस्‍वरूप छह कमरे बनकर पूर्ण रूप से तैयार हो चुके है ओर आगे अभी कमरे बनना शेष है आप सभी समाज बंधुओं एवं दानदाताओं तथा भामाशाहों से करबद्ध प्रार्थना है कि अधिक से अधिक दान देकर पुण्‍य के भागीदार बनें । हमे आप से आशा ही नहीं पूर्ण विश्‍वास है कि आप इस नवनिर्माण एयर कंडिशन कमरे बनवाने में पूर्ण रूप से सहयोग करेंगे ।
       नोट : दान में दी गई राशि नगद/चैक अखिल भारतीय रैगर समाज धर्मशाला रामदेवरा के नाम की रसीद अवश्‍य प्राप्‍त करे ।
       निम्‍न पदाधिकारियों से सम्‍पर्क करें :-
दिल्‍ली : नेतराम पिंगोलिया (अध्‍यक्ष) 09810736709, इन्‍द्रसेन जलुथरिया (महासचिव) 09868512927, प्रभुदयाल सबलानिया (कोषाध्‍यक्ष) 09871446514, मालाराम पिंगोलिया (सह कोषाध्‍यक्ष) 09868808865, मित्रसेन बसेठिया (सचिव) 09971320381
अजमेर : मोहनलाल सिंवासिया (वरिष्‍ठ उपाध्‍यक्ष) 09214836362
जयपुर : भगवान दास जलुथरिया (प्रचार सचिव) 09929008601, मुकेश गाडेगावलिया (प्रेस प्रवक्‍ता) 09782156617
महाराष्‍ट्र : ब्रह्म जी करडिया (उपाध्‍यक्ष) 022-2524157
हरयाणा (हिसार): फूलचन्‍द बोकोलिया (सहयोगी सदस्‍य) 09812414033
पंजाब : लालचन्‍द बोकोलिया (उपाध्‍यक्ष) 09781428499
इन्‍दौर (म.प्र.) : अरूण तगाया (सहयोगी सदस्‍य) 09425082288

साभार : रधुवंशी रक्षक पत्रिका

Bullet Hide Raigar News योगेन्‍द्रश चान्‍दोलिया जी उत्तरी दिल्‍ली के महापौर (04-2014)

North Delhi MCD Chairman Yogendra Chandoliya

       रैगर समाज के गौरव योगेन्‍द्र चान्‍दोलिया जी का उत्तरी दिल्‍ली का महापोर बनाऐ जाने पर हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाए
योगेन्‍द्रश चान्‍दोलिया जी उत्तरी दिल्‍ली का महापौर पद से एम सी डी ऑफिस में पद एवं गोपनियता की शपथ ली । रैगर समाज के लिए हर्ष की बात है कि रैगर समाज नई दिल्‍ली में मीरा कंवरिया जी पहले महापौर रहकर माज का प्रतिनिधित्‍व कर चुकी है । नवनिर्वाचित योगेन्‍द्र चाँदोलिया को महापौर की शपथ लेने के पश्‍चात भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ-साथ दिल्‍ली, राजस्‍थान, पंजाब, हरिया की रैगर समाज ने मिठाईया बॉटकर अपनी खुशी का इजहार किया । वहीं योगेन्‍द्र चान्‍दोलिया को बधाई एवं शुभकामनाएं दी एवं भाजपा दिल्‍ली प्रदेशाध्‍यक्ष का आभार व्‍यक्‍त किया ।

साभार : रधुवंशी रक्षक पत्रिका

Bullet Hide Raigar News रैगर समाज की शौभायात्रा - झालावाड़(18-04-2014)

Raigar samman samaroha Jhalawar

        19 अप्रेल 2014 झालावाड़ - श्री रैगर समाज द्वारा बाबा रामदेव जी महाराज की 12 दोज कार्यक्रम पर शनिवार को झालावाड़ शहर में शौभा या़त्रा निकाली गई । शौभा यात्रा में समाज की महिलाऍ एवं पुरूष बाबा रामदेव जी महाराज के भजनों की धुन पर नाचते गाते चल रहे थे । बाबा के भजनों में सभी झुमते गाते म्हानें घोडल्यों मंगवा दे म्हारी मॉ...................,रामापीर........आदि भजनों की धुन सुनाई दे रही थी। शौभायात्रा में रैगर समाज के पूरी हाडौती झालावाड़,बॉरा,कोटा,बून्दी एवं मध्यप्रदेश की महिलाए एवं पुरूषों ने भाग लिया था । शौभायात्रा में आगे डीजे की गाडी चल रही थी जिसमे पुरूष भजनों पर नाचते गाते चल रहे थें । महिलाओं के लिए अलग से बैण्ड बाजे की व्यवस्था थी । शौभायात्रा में एक हाथी, पॉच घोडे, तीन सौ महिलाये कलश सिर पर रख कर चल रही थी । इस यात्रा को झालावाड़ शहर में जिसने भी देखा वह दंग रह गया कि इतनी बडी शौभायात्रा किसी समाज की अभी तक नही निकली होगी जबकि रैगर समाज की यह दूसरी शौभायात्रा थी । शौभायात्रा रैगर मौहल्ला धनवाडा से प्रारम्भ होकर बसेडा मोहल्ला, मोटर गैराज, बडा बजार, गढ दरवाजा, मंगलपुरा, सुनारो की बगीची, निर्भय सर्किल, बस स्टेण्ड, सुभाष कॉलोनी, डिप्टी जी के मन्दिर के सामने होते हुए मोटर गैराज से रैगर मोहल्ला धनवाडा़ पहुची । शौभायात्रा का जगह-जगह सभी सामाजिक संगठनों द्वारा स्वागत किया गया ।
सबसे मंहगा था हाथी : हाथी पर बाबा रामदेव जी की तस्वीर लेकर बैठने की बौली श्री खेमचन्द उर्फ शैतान पुत्र श्री मुलचन्द गुसाईवाल नाकेदार द्वारा 40,000 रूपये की लगाई गई व हाथी पर प्रथम चॅवर की बोली महाराज हरीराम गिरी जी हरीगढ ; रैगर महासभा के जिलाध्यक्ष श्री विष्णुदयाल रैगर के पिताद्ध द्वारा बौली 29,000 रूपये की एवं द्वितीय चॅवर की बौली श्री बद्रीलाल तोणगरिया पटवारी द्वारा 28,000 रूपये लगाई थी ।
हाथी पर अजब थी जोडी : हाथी पर बैठने वाले तीनो सदस्य जीजा साले थे। महाराज हरिराम गिरी जी के दोनों सगे साले थे इसलिए यह भी शौभायात्रा में चर्चा का विषय बना रहा । पॉच घोडे भी थे शामिल : शौभायात्रा में पॉच घोडे चल रहे थे जिसमें आगे का घोडा बाबा रामदेव जी महाराज का था जो बाबा की गादी लेकर खाली चल रहा था। अन्य चार घोडो पर प्रथम श्री राकेश कुमार तोणगरिया, द्वितीय घोडे पर श्री बृजमोहन सुन्दरपुरिया,तृतीय घोडे पर श्री उग्रसेन उगरिया, चतुर्थ पर श्री दिनेश कुमार द्वारा लगाई गई । सभी गुडसवारो के हाथ में ध्वज लगे हुए थे ।
Raigar samman samaroha Jhalawar जागरण- शौभायात्रा से पूर्व संध्या पर शुक्रवार को जागरण का कार्यक्रम रखा गया था जिसमें समाज के सभी संतो को आमंत्रित किया गया था। जागरण में समाज के सभी संत व भक्तो ने भाग लिया था। समाज के नवयुवक कलाकारों ने अपनी प्रतिभा के साथ भजनों का गायन किया और बाबा के भजनो से सभी श्रोताओं को पूरी रात्रि बाधें रखा । श्रद्धालुओं को पता भी नही चल पाया की रात्रि कब पूरी हो गई। जागरण में गायक कलाकारो की संख्या बहुसंख्यक होने के कारण सभी को एक-एक भजन गाने का ही मौका मिल सका। जागरण समाप्त होने के बाद कार्यकर्ताओ की ओर से संतो का चादर एवं भेंट देकर सम्मान किया गया। कार्यक्रम आचार्य श्री ननकदास जी महाराज के सानिध्य में हुआ। भजन संध्या का संचालन राजू बसनोदिया ने किया
Raigar samman samaroha Jhalawar हवन में दी आहुती : कार्यक्रम में तीन हवन की व्यवस्था रखी गई जिसमे बडे हवन कुण्ड में श्री गोपालाल तगाया मेम्बर साहब द्वारा 15,000 देकर आहुति दी गई व छोटे कलश की बौली लालचन्द तगाया एवं रामदयाल तगाया की रही ।
बौलियो की रही भरमार : हाथी-समाज के लोगो ने बौलियों में बडी उत्सुकता से भाग लिया जिसमें हाथी पर बाबा की तस्वीर लेकर बैठने की बौली श्री खेमचन्द उर्फ शैतान पुत्र श्री मुलचन्द नाकेदार गुसाईवाल द्वारा चालीस हजार रूपये लगाई गई। हाथी पर बैठकर चॅवर लेने की प्रथम बौली श्री महाराज हरिराम गिरी हरीगढ वालो की उनतीस हजार रूपये रही एवं द्वितीय चॅवर की बौली श्री बद्रीलाल तोणगरिया पटवारी की 28,000 रही ।
घोडे- शौभायात्रा में पॉच घोडे शामिल थे जिसमें एक घोडा बाबा का था बाकी चार घोडे की बौली प्रथम घोडे की बौली पर प्रथम श्री राकेश कुमार तोणगरिया द्वारा नौ हजार, द्वितीय घोडे पर श्री बृजमोहन सुन्दरपुरियाआठ हजार पॉच सौ,तृतीय घोडे पर श्री उग्रसेन उगरिया सात हजार पॉच सौ, चतुर्थ पर श्री दिनेश कुमार द्वारा सात हजार लगाई गई । सभी गुडसवारो के हाथ में ध्वज लगे हुए थे ।
लाडा की मॉ-लाडा की मॉ की बौली श्रीमती कमला देवी तोणगरिया द्वारा ईक्कीस हजार रही जो पूरे कार्यक्रम में पूजा की थाली हाथ में लेकर चल रही थी ।
लाडा की बहिन- लाडा की बहिन की बौली सत्रह हजार श्रीमती अमरी बाई द्वारा लगाई गई ।
हवन : बडे हवन कुण्ड की बौली श्री गोपाललाल तगाया द्वारा पन्द्रह हजार रूपये रही ।
कलश : बडे कलश की बौली श्री लालचन्द तगाया की इकतालीस सौ रूपये व छोटे कलश की बौली श्री रामदयाल तगाया द्वारा छब्बीस सौ रूपय रही।
इनका रहा सहयोग : कार्यक्रम की शुरूआत में एक वर्ष पहले से साठ सदस्यों द्वारा हर महीने की प्रत्येक दोज पर बाबा का जागरण किया जा रहा था। बारह दोज पूर्ण होने पर पुर्णाहुति का कार्यक्रम किया गया । जिसमें कार्यक्रम अध्यक्ष राजूलाल सुन्दरपुरिया,
उपाध्यक्ष बद्रीलाल तोणगरिया व विष्णुदयाल शेर,
सचिव गिरिराज तोणगरिया व लालचन्द बडारिया,
कोषाध्यक्ष बृजमोहन सुन्दरपुरिया मुलचन्द गुसाईवाल, अमरलाल बडारिया,
संगठनमंत्री रामलाल भरण्डिया,गोपाललाल तगाया,जानकीलाल ओवरिया, भेरूलाल बसनोदिया, कन्हैयालाल गौलिया,
प्रचारमंत्री पप्पूलाल चॉदोलिया, रामनाथ भरण्डिया, रामकिशन उगरिया,
सांस्कृतिक मंत्री रामदयाल तगाया, बद्रीलाल ओवरिया,
कोटवाल मोहनलाल बसनोदिया,
व्यवस्थापक-रामलाल बसनोदिया, भीमराज बडारिया, रामेश्वर बडारिया, गोपाललाल बडारिया, दानमल बडारिया, कमलेश कुमार सुन्दरपुरिया, रामचरण बडारिया, बद्रीलाल तोणगरिया अध्यापक, पूरीलाल बहेरवाल, पूरीलाल तोणगरिया, लालचन्द तगाया, रामचन्द्र तगाया, राजूलाल तगाया, शिवशंकर बसनोदिया, विक्की बसनोदिया, केसरीलाल बसनोदिया, छीतरलाल गुनसारिया, मोडुलाल गुनसारिया, रामकल्याण भरण्डिया, सुरजमल भरण्डिया, पॉचूलाल भरण्डिया, गोपाललाल उगरिया, चतुर्भज बासीवाल, गोपाललाल बासीवाल, हीरालाल बासीवाल, धनराल कॅवरिया, राजेन्द्र कुमार ओवरिया, बंजरग लाल ओवरिया, नन्दकिशोर देवतीवाल, रामगोपाल शहदवाल, जगदीश डुगंरपुरिया, पॉचूलाल सुन्दरपुरिया, रोडुलाल सिसोदिया, मदनलाल अटावदिया, सूरजमल ओवरिया, छोटुलाल छोमिया, दुलीचन्द कडगेलिया, हीरालाल औलण्डिया, रामनाथ डुगंरपुरिया, लालचन्द बडारिया, पप्पूलाल सुवालिया आदि थे ।
कार्यक्रम में पधारे गये अतिथियों को कार्यक्रम अध्यक्ष राजूलाल सुन्दरपुरिया ने धन्यवाद दिया और अखिल भारतीय रैगर महासभा की ओर से महासभा के जिलाध्यक्ष विष्णुदयाल रैगर ने आभार व्यक्त किया ।

Bullet Hide Raigar News पाली मे प्रतिभा व दानदाताओं का सम्मान समारोह सम्पन्न(09-03-2014)

Raigar samman samaroha Jhalawar

        दिनांक 9.03.2014 रविवार को रैगर जटिया समाज सेवा संस्था की और से प्रतिभावान छात्र-छात्राओं व दानदाताओ का सम्मान समारोह संस्था परिसर गंगा विहार पुलिस लाईन रोड़ पाली मे आयोजित किया गया ।
        समारोह मे मुख्य अतिथि अनूपचंद रैगर वाणिज्य कर अधिकारी पाली, विशिष्ट अतिथि डॉ. हरिश कुमार मौर्य सहायक आचार्य उम्मेद अस्पताल जोधपुर, बंशीलाल बंशीवाल प्रिसिंपल, चेतन प्रकाश नवल, संतोषसिंह कंवरिया, व नाथुराम जी रहे ।
        समारोह मे संस्था के प्रथम संस्थापक सदस्य स्वर्गीय श्री तेजाराम जी चौहान की स्मृति मे उनके सुपुत्र कुशालचन्द्र एडवोकेट ने समाज के जरूरतमंद व आर्थिक रूप से कमजोर छात्र-छात्राओं को छात्रवृति देने के उद्देश्य से एक लाख ग्याहरा हजार रू ़ (1,11,000) दान का चैक प्रदान किया । जिससे शिक्षा प्रोत्साहन फण्ड बनाया जायेगा और फण्ड की राशी का बैंक मे सावधि जमा किया जायेगा, तथा ब्याज को जरूरतमंद छात्रो मे बॉटा जायेगा ।
        कार्यक्रम मे संस्था के वरिष्ठ सदस्य विजय कुमार बालोटिया ने अपने उद्बोधन मे कहा कि समाज से प्राप्त दान का पूर्ण सदयोग किया गया है । नन्दकिशोर बालोटिया ने अपने उद्बोधन मे कहा कि समाज के सभी लोगो को एकजुट करने के प्रयास मे यह संस्था सफल हुई है । कन्हैयालाल बारोलिया ने अपने विचार व्यक्त रखते हुऐ अनुरोध किया की समाज के सभी साधन सम्पन्न लोगों को समाजहीत मे त्याग करना चाहिये । बालिका वर्ग मे कक्षा दसवीं मे सर्वाधिक अंक 86 प्रतिशत लाने वाली कुसुम अर्जुनलाल को श्री कन्हैयालाल जी बारोलिया द्वारा हरदेव बारोलिया श्रैष्ठ बालिका पुरस्कार के रूप मे 2100 रू. नकद् पुरस्कार दिया गया तथा कक्षा बारहवीं (12) मे बालिका मे सर्वाधिक अंक 79 प्रतिशत लाने वाली मीनाक्षी उदाणिया को हरदेव बारोलिया श्रैष्ठ बालिका पुरस्कार, श्री कन्हैयालाल जी बारोलिया द्वारा 3100 रू. नकद् पुरस्कार व स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया । तथा वर्ष 2013 की श्रैष्ठ प्रतिभा के रूप मे गौरव रमेश कुमार सिंघाड़िया को कक्षा बारह मे 74 प्रतिशत व एम.बी.बी.एम. मे चयन पर श्री कुशालचन्द्र द्वारा, श्री तेजाराम चौहान श्रैष्ठ प्रतिभा सम्मान 2013 के रूप मे 5100 रूपये व स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया ।
        कक्षा 10 व 12 मे सर्वाधिक 95 प्रतिशत अंक पाने वाले हिंमाशु रमेशकुमार सिंघाड़िया को श्री चेतन प्रकाश नवल जोधपुर द्वारा 5,151 रूपये नकद् पुरस्कार प्रदान कर सम्मानित किया और उनके उज्जवल भविष्य की शुभकामनाऐं दी ।
        अन्य प्रतिभाओं मे कक्षा 10 मे प्रिंयका सिंघाड़िया, सोनु चौहान, मोनिका सुवासिया, संध्या बालोटिया, हेमलता भंसाली, राकेश शशी प्रकाश, रमेश, हिमांशु बालोटिया, रविन्द्र, महैन्द्र नोगिया कक्षा 12 मे मनीषा, ललिता, सरोज, गौरव सुगनचंद, निलेश, सुरेश, बी.एड. मे सर्वाधिक अंक लाने पर गुड़िया, अभिषेक, हिमेश, कैलाश, किरण, पूजा, मीनु तथा अन्य मे डॉक्टरेट की उपाधि प्राप्त करने पर रेणु तंवर, इंजिनियर की उपाधि प्राप्त करने पर प्रदीप, नरेन्द्र तथा डॉक्टर बनने पर संजय शास्त्री तथा अन्य मे कुसुमलता, प्रर्मिला तथा प्रतियोगाी प्रवेश परिक्षा मे चयन पर लोकेश सुखाड़िया, हेमन्त, मनोज तथा सरकारी सेवा मे चयन पर अभिमन्यु कृष्ण कुमार तथा राज्य स्तर पर सम्मानित होने वाले प्रकाशचंद सिंघाड़िया व घेवरराम सिंघाड़िया को संस्था द्वारा प्रशस्ति पत्र व स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया । कार्यक्र्रम मे लगभग 120 प्रतिभावान छात्र-छात्राओं व दानदाताओ का सम्मान किया गया ।
        संस्था का उत्थान करने के लिये विजय कुमार बालोटिया, हिम्मताराम बालोटिया, भट्टाराम खोरवाल, अमित बालोटिया, गोविन्द तुनगरिया, महैन्द्र सिंगाड़िया, पारस जी मौर्य को सम्मानित किया गया ।
        समाज मे स्वर्गीय श्री तेजाराम जी चौहान के विशेष योगदान के लिये उनकी धर्मपत्नि विधा देवी व उनकी पुत्रवधू रेणुबाला को श्रीमति मधु सिंगाड़िया द्वारा स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया ।
        कार्यक्रम वर्ष 2013-14 मे संस्था को दान देने वाले सभी दानदाताओं का भी सम्मान किया गया ।
        प्रतिभा सम्मान समारोह के प्रायोजक बनने पर मुख्य अतिथि अनूपचंद द्वारा श्री ओमप्रकाश भट्ट को स्मृति चिन्ह व प्रशस्ति पत्र देकर बहुमान किया गया और समाजहीत मे उनके कार्या की प्रशसा की व धन्यवाद दिया ।
        अंत मे संस्था अध्यक्ष ने वर्ष 2013-14 के गतिविधियो की जानकारी देते हुऐ बताया कि संस्था द्वारा वर्ष 2013-14 मे 5000 रू. से अधिक दान देने वाले 35 दानदाताओ से कुल आठ लाख रू.(8,00,000) दान राशी एकत्र की जिसमे 10 स्थायी सदस्य, घनश्याम जी चौहान अधिक्षण अभियन्ता, सुरेश कुमार जी नवल अति. जिला कलेक्ट्र, देवेन्द्र जी दौलिया, शंकरलाल बालोटिया, जगदीश जी चौहान, भंवरलाल चौहान, मनीष तिलक, घीसुलाल, भीकमचंद, मोहनलाल कुर्ड़िया आदि शामिल है ।
        समारोह मे मदरूपराम सुखाडिया , मनोहर लाल उदाणिया , कैलाश मुरारी वर्मा एडवोकेट आनन्द प्रकाश, भीखाराम चौहान, शेषमल कुर्डि़या, रामचन्द्र कुर्डिया, वासुद्रव चौहान, ढगलाराम चौहान राणावास, शंकरलाल बालोटिया भोपालगढ, मिश्रीलाल मोसलपुरिया भोपालगढ, श्रवण कुमार सिंगाड़िया सोजत, महैन्द्र सिंगाड़िया पार्षद जैतारण, किशन खोरवाल, शंकरलाल खोरवाल, हरिराम बंशीवाल, विशाल चौहान, गोविंद तुनगरिया, भंवरलाल जैलिया आदि सैकड़ों रैगर समाजबन्धु उपस्थित रहे ।
        समारोह के अंत मे संस्था अध्यक्ष कुशालचन्द्र एडवोकेट ने, पाली के अतिरिक्त जिला कलेक्ट्र रहे श्री सुरेश कुमार नवल की प्रंशसा करते हुये बताया की गत् वर्ष 2013-14 मे श्री नवल का मार्गदर्शन व सहयोग से यह सम्भव हो पाया जिसके लिये संस्था व समाज उनका आभारी है और समाज को ऐसे शीर्ष अधिकारियों की बहुत जरूरत है, जो समाज मे अपनी भागीदारी निभा सके । जिससे इस पिछड़े समाज को ऊपर उठाया जा सके । श्री नवल का गत् सप्ताह पाली के एडीएम पद से यूआईटी सचिव भरतपुर पद पर स्थानान्तरण हो गया ।
        अध्यक्ष कुशालचन्द्र एडवोकेट ने समारोह मे पधारे सभी अतिथियो, मेहमानो, समाजबन्धुओं, बच्चों, छात्र-छात्राओं, तथा मंच सचालन के लिए छगाराम सिगारिया को धन्यवाद दिया ।

Bullet Hide Raigar News दिल्‍ली प्रदेश के रैगर समाज की जनगणना का शुभारम्‍भ हुआ(23-02-2014)

        अखिल भारतीय रैगर महासभा दिल्‍ली प्रदेश शाखा के तत्‍वाधान में दिल्‍ली प्रदेश के समस्‍त रैगर समाज की आबादी की जनगणना का शुभारम्‍भ किया गया । इस अवसर पर दिल्‍ली प्रदेश महासभा अध्‍यक्ष श्री सोहन लाल पीपलीवाल जी ने कहा कि रैगर समाज पूरी दिल्‍ली में विभिन्‍न क्षेत्रों में निवास करता है इस कारण से हम सभी एक दूसरे से पूरी तरह से परिचित नहीं है । इस कारण यह हो रहा है कि हमारे पूरे रैगर समाज की एकता और अखण्‍डता में कमी आ रही है ओर साथ ही सामाजिक एवं राजनीतिक क्षेत्रों में भी हम अपना वर्चस्‍व पूर्ण रूप से स्‍थापित नहीं कर पा रहें हैं, ओर इसके साथ ही पूरे समाज से यह अपील की कि इस जनगणना के पुनीत कार्य को सफल बनाएँ जिससे रैगर समाज के व्‍यक्तियों की जनगणना होने से रैगर समाज को एकता के सूत्र में पिरोया जा सकेगा । हमारा समाज सामाजिक राजनीतिक एवं अन्‍य क्षेत्रों में भी विकास करेगा । समाज के विकसित होने के विकल्‍पों/सुझावों पर आप और हम सभी मिल जुलकर विचार कर सकेंगे ।
       श्री नवल किशोर खटनावलिया जी ने कहा कि दिल्‍ली में रैगर समाज के व्‍यक्तियों की जनगणना से रैगर समाज के समाजिक एवं शैक्षणिक क्षेत्र में विकास होगा और ऐसा तभी होगा जब रैगर समाज के सभी व्‍यक्ति इसके लिए एकजुट होंगे । रैगर समाज के सर्वांगीण विकास के लिए समाज के सभी युवक एवं युवतियों को आह्वान करते हुए कहा कि समाज में जो भी परिवर्तन होते है वे युवाशक्ति के द्वारा ही होते है । दिल्‍ल में रैगर समाज की जनगणना नहीं होने के कारण हमारे समाज को राजनीतिक क्षेत्र में उचित प्रतिनिधित्‍व नहीं मिल पा रहा है । दिल्‍ली में हामरे समाज के व्‍यक्तियों की जनगणना होने से हमें सामाजिक, राजनीतिक एवं अन्‍य क्षेत्रों में अपने आप को स्‍थापित करने का मौका मिलेगा और हमारा समाज और अधिक उन्‍नति की ओर अग्रसर होगा । इसके साथ ही सभी इस महायज्ञ में बढचढकर हिस्‍सा ले ओर इसे सफल बनाने में अपना अमुल्‍य समय व योगदान प्रदान करें ।

Bullet Hide Raigar News अ. भा. रैगर महासभा की ओर से समाज के नवनिर्वाचित विधायकों का हुआ सम्‍मान (23-02-2014)

        अखिल भारतीय रैगर महासभा एवं रैगर छात्रावास निर्माण समिति के संयुक्‍त तत्‍वाधान में समाज के नवनिर्वाचित विधायकों का सम्‍मान समारोह छात्रावास प्रांगण में रविवार 23 फरवरी 2014 को सम्‍पन्‍न हुआ । इस समारोह के मुख्‍य अतिथि क्षेत्रिय विधायक एवं शिक्षा मंत्री कालीचरण सराफ तथा अध्‍यक्षता राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष टी.आर.वर्मा ने की । समारोह में विधान सभा अध्‍यक्ष कैलाश मघवाल भी आमंत्रित थे लेकिन वे किसी कारणवश नहीं आये । समाज के विधायकों में भाजपा के निवाई विधायक हीरालला रैगर तथा डग विधायक रामचन्‍द्र सुनारीवाल ने समारोह में पधारकर मंच की शौभा बढ़ाई साथ ही दोनों विधायकों को सम्‍मानित किया गया ।

        राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष टी.आर.वर्मा एवं मुख्‍य अतिथि शिक्षा मंत्री ने सर्व प्रथम रैगर धर्मगुरू स्‍वामी ज्ञानस्‍वरूप महाराज के चित्र पर माल्‍यार्पण तथा दीप प्रजवलित कर कार्यक्रम की शुरूआत की । इसी कड़ी में अतिथियों का स्‍वागत् बालिकाओं द्वारा स्‍वागत् गान से किया गया । कार्यक्रम में समाज द्वारा राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष टी.आर.वर्मा मुख्‍य अतिथि तथा समाज के नवनिर्वाचित विधायकों का सम्‍मान साफा तथा फूलमालाओं द्वारा किया गया । समारोह में सांस्‍कृतिक कार्यक्रम का अयोजन भी किया गया जिसमें बालक-बालिकाओं ने उपस्थित समाज बंधुओं को मंत्रमुग्‍ध कर दिया ।

        समारोह में मंच संचालन राष्‍ट्रीय महामंत्री ताराचन्‍द जाजोरिया, राजेन्‍द्र कानखे‍ड़िया ने बखूबी निभाया । कार्यक्रम के अंत में भोजन-प्रसादी की भी व्‍यवस्‍था की गई थी । ऐसे आयोजनों से समाज के चार चांद तो लगते ही है इसके साथ-साथ समाज में एकता एवं भाईचारे का भी प्रादुभाव पेदा होता है । भविष्‍य में ऐसे आयोजनों की समाज को अपेक्षा रहेगी ।

        समारोह में मुख्‍य अतिथि के रूप में बोलते हुए शिक्षामंत्री ने कहा कि हमारी सरकार में किसी अनुसूचित जाति के व्‍यक्ति पर अत्‍याचार नहीं होने, दिया जाएगा । उन्‍होंने कहा कि इस समाज को रोटी को दोनों तरफ सेकना चाहिए ताकि वह स्‍वादिष्‍ट बन सके । अर्थात समाज को दोनों ही पार्टियों में भा‍गीदारी करनी चाहिए । किसी एक पार्टी से जुड़े रहने से विकास संभव नहीं हो सकता । समाज में एकता का परिचय देते हुए आगे बढ़ना चाहिए और नई-नई प्रतिभाओं को आगे आना चाहिए ताकि समाज व देश दोनों का भला हो सके ।

समाज राजनितिक प्रतिनिधित्‍व पर मनन करें - हीरालाल रैगर

       सभा को सम्‍बोधित करतें हुए निवाई विधायक हीरा लाल जी रैगर ने कहा कि : सामाजिक विकास हेतु समाज को राजनीतिक प्रतिनिधित्‍व पर मनन करना चाहिए और आपसी स्‍वार्थ को छोड़कर आगे बढ़ना चाहिए । उन्‍होंने अफसोस जताते हुए कहा कि 35 लाख की आबादी वाले इस समाज का राजनीति प्रतिनिधित्‍व नगण्‍य है आज हमारे विधायक एवं सांसदों की संख्‍या अनुपात के बहुत कम है । इस पर समाज को गहनता से मनन करना चाहिए जबकि हमारे से कम संख्‍या वाले समाजों में विधायकों की संख्‍या कहीं अधिक है । उन्‍होंने कोली व बावरी समाज का उदाहरण देते हुए कहा कि क्‍या हमारा समाज इन समाजों से भी पिछड़ा या संख्‍या में कम है । इस विषय में हमें गौर करना चाहिए ताकि समाज का चहुंमुखी विकास संभव हो सके । उन्‍होंने कहा कि मैंने मेडम (श्रीमती वसुन्‍धरा जी मुख्‍यमंत्री) से कहा है कि हमारे समाज की इतनी जनसंख्‍या होते हुए भी हमारा प्रतिनिधित्‍व कम क्‍यों है । ऐसी स्थिति में समाज सारे भेदभाव भूला कर एक हो जाए और भविष्‍य में जहां भी राजनीति में मौका किले उसका लाभ उठाना चाहिए । हमारे धर्मगुरूओं और डॅा. अम्‍बेडकर से हमें शिक्षा लेनी चाहिए कि हम किस पायदान पर खड़े हैं और कहां पहुंचना है ।

सक्षम हो गये वे परवाह नहीं करत - राम चन्‍द्र सुनारीवाल

        सभा को सम्‍बोधित करतें हुए डग विधायक रामचन्‍द सुनारीवाल ने कहा कि : जो समाज के लोग सक्षम हो गये वे परवाह नहीं करते तथा जो परवाह करते हैं, उनकी परवाह में लोग नहीं आते । समाज को मुख्‍य धारा से जुड़ना चाहिए नहीं तो समाज का यह बिखराव आने वाली पीढ़ी के लिए नुकसानदायक होगा । सक्षम लोगों को कोसते हुए श्री सुनारीवाल ने कहा कि जो लोग पढ़-लिखकर सक्षम हो गए वे समाज की परवाह नहीं करते । उन्‍हें तो केवल आरक्षण का लाभ लेकर आगे बढ़ना था अब समाज सक्षम के पीछे जाये वे समाज के पीछे नहीं हैं और जो समाज की परवाह करते हैं वहां समाज उनके साथ नहीं चलता अर्थात् उनकी प्रवाह में नहीं आता । ऐसी स्थिति तालमेल नहीं होने से सामाजिक विकास में बाधा आ रही है । प्राय: यह देखने में आया है कि लोग मंच से भाषण देने की होड़ लगी रहती है लेकिन कार्यकर्ता बनकर सेवा करने में शर्म महसूस होती है । अपने आप को रैगर समाज में जन्‍म लेने को धन्‍य मानते हुए कहा कि समाज का सम्‍बंध मुख्‍य रूप से दो रूप से होता है और वह है रोटी एवं बेटी । अर्थात् रोटी और बेटी का रिश्‍ता समाज से अटूट रिश्‍ता होता है इसे सभी का पूर्ण रूप से निभाना चाहिए । अंत में उन्‍होंने समाजिक एकता पर बल देते हुए कहा कि एक‍ता में सबसे बड़ी ताकत होती है । बंधी मुट्ठी लाख की खुल गई तो खाक की होती है । अत: हमें भी एकता में रहकर टांग खींचने वालों से सावधान होकर आगे बढ़ना चाहिए । अच्‍छे कार्य सदा फलदायी होते है । यह मेरे साथ भी हुआ है मेरे क्षेत्र डग विधानसभा में रैगर समाज के 130 वोट होते हुए भी में 50 हजार से अधिक मतों से विजय हुआ हुँ । इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि मैंने वहां कितनी मेहनत की होगी ।

जनप्रतिनिधि समाजिक विकास में सक्रिय भागिदारी निभावें - तुलसी राम वर्मा

        सभा को सम्‍बोधित करतें हुए राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष श्री तुलसी राम वर्मा ने कहा कि : जब तक जनप्रतिनिधि समाज के विकास के बारे में तन-मन से नहीं चाहेंगे समाज का विकास संभव नहीं हो सकेगा । समारोह में सजा के निवनिर्वाचित विधायकों को निर्वाचित होने पर अखिल भारतीय रैगर महासभा एवं रैगर छात्रावास प्रबंध समिति की ओर से हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दी । उन्‍होंने कहा कि आप दोनों की गरिमामयी उपस्थिति से समाज गौरवांवित महसूस करता है एवं सम्‍मान समारोह का मुख्‍य उद्देश्‍य भी समाज के सभी व्‍यक्तियों एवं समाज की समस्‍याओं से रूबरू करना ध्‍यये था एवं यह अनुरोध हे कि समाज की हर वर्ग की शिक्षा एवं आर्थिक विकास में विधायक भरपूर सहयोग दें एवं उनके दुख:सुख में हम सब समग्र रूप से भागीदारी सुनिश्चित करें जिससे राजनीतिक दृष्टिकोण से समाज और आगे बढ़ेगा । श्री वर्मा ने कहा कि समाज में संगठन को मजबूत करने की दिशा में एवं राजनीतिक दृष्टिकोण से सक्षमता व सत्‍ता में भागीदारी इस आधार पर सुनिश्चित हो सकती है कि सामाजिक एकता को तार-तार करने वाले समानान्‍तर संगठनों को पूर्ण रूप से नकार दिया जाए । निजी स्‍वार्थों के हितार्थ पनपने वाले संगठनों ने समाज को सिवाय हाशिए पर लाने व दीमक की तरह चट करने का काम किया है । उन्‍होंने युवाओं को धैर्य के साथ आगे बढ़ने संगठन में पकड़ मजबूत बनाने व समाज सेवा को लक्ष्‍य रखकर उन्‍नति हासिल करने पर जोर दिया । युवा अपने जोश को बरकरार रखते हुए आगे बढ़े । यही मेरी कामना है । शिक्षा के क्षेत्र में हमारा समाज आगे बढ़े । इसी आशा और विश्‍वास के साथ उन्‍होंने सभी आगन्‍तुओं एवं पदाधिकारियों को कार्यक्रम को सफल बनाने में सहयोग करने हेतु उनका हार्दिक आभार प्रकट किया एवं सफल आयोजन के लिए बधाई दी ।

साभार - भारत दशा

Bullet Hide Raigar News रैगर समाज प्रतिभावान सम्‍मान समारोह सम्‍पन्‍न : झालावाड़(30-01-2014)

Raigar samman samaroha Jhalawar

        झालावाड़ - अखिल भारतीय रैगर महासभा युवा प्रकोष्‍ठ झालावाड़ के तत्वावधान में 30 जनवरी 2014 गुरूवार को दोपहर 12 बजे ’’ झालावाड़ रैगर प्रतिभा सम्मान समारोह 2014’’ एक निजी होटल झमकू पैलेस में आयोजित हुआ । कार्यक्रम में मुख्य अतिथि माननीय श्री रामचन्द्र सुनारीवाल विधायक डग एवं उनकी धर्म पत्नि श्री मति सुशीला देवी थे । विशिष्ट अतिथि के तौर पर युवा महासभा के प्रदेश अध्यक्ष शंकरलाल नारोलिया एवं उनकी धर्म पत्नि श्रीमती अजंना नारोलिया, रघुवंशी रक्षक पत्रिका के सम्पादक मुकेश गाडेगावलिया, रैगर समाज वैबसाइड के सचांलक बृजेश हंजावलिया, समाज सेवी मन्दसौर से श्री किशनलाल हंजावलिया, झालावाड़ जिले के वरिष्ठ समाजसेवी महाराज हरीराम गिरी शेर, श्री लाल धौलखेडिया, अखिल भारतीय रैगर महासभा, झालावाड़ के जिलाध्यक्ष विष्णुदयाल रैगर, युवा प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष शंकरलाल रैगर एवं युवा प्रकोष्ठ के पूर्व जिलाध्यक्ष बृजमोहन सुन्दरपूरिया, युवा महासभा के प्रदेश संरक्षक हनुमान प्रसाद सौकरिया, युवा महासभा के कोषाध्यक्ष श्री महेन्द्र कांसोटिया, गरोठ मध्यप्रदेश से वरिष्ठ अध्यापक मोहन जगरवाल थे । कार्यक्रम की अध्यक्षता झालरापाटन नगरपालिका की पूर्व पार्षद श्रीमति चन्द्रीबाई द्वारा की गई ।

        कार्यक्रम की शुरूआत में मॉ सरस्वती, बाबा साहब अम्बेडकर, समाज के घर्म गुरू स्‍वामी ज्ञानस्वरूप जी व आत्माराम जी लक्ष्य महाराज की प्रतिमाओं पर अतिथियों द्वारा पुष्प अर्पित करके दीप प्रज्वलित किया । सरस्वती वंदना कुमारी शिल्पा बडारिया व पिकीं गुसाईवाल द्वारा की गई । स्वागत गीत कमारी पूर्णिमा सिंह उर्फ खुशबू शेर द्वारा प्रस्तुत किया गया ।

        मंचासीन अतिथियों का माला व साफा बॉधकर स्वागत किया गया । कार्यक्रम में सभी उपस्थित मंचासीन अतिथियों ने अपने अपने विचार प्रकट किये । इसके मध्य ही प्रतिभाओं का सम्मान किया जिसमें-
- 10वी कक्षा उतीर्ण करने पर -70 प्रतिशत छात्रा व 75 प्रतिशत छात्र
कु0 पूजा श्री राजेन्द्रकुमार धौलखैडिया 71%, विजय वर्मा श्री बाबूलाल भसावडिया 85%, रविकुमार वर्मा श्री सूरजमल 82%, अंजली वर्मा श्री बाबूलाल भसावडिया 74%, महावीर प्रसाद श्री छीतरलाल 77%,
- 12 वी कक्षा उतीर्ण करने पर 70 प्रतिशत छात्रा व 75 प्रतिशत छात्र
लक्ष्मीकान्त श्री राजेन्द्र कुमार धौलखैडिया 87%, रविकांत श्री राजेन्द्र 86%, सुरेश कुमार श्री बृजमोहन धौलखैडिया, अनिता वर्मा श्री मन्नालाल वर्मा 70%, निनती वर्मा श्री राधेश्याम बासीवाल, कुसुमलता श्री रामभरोस 71%, पवन कुमार श्री राजेन्द्र, देवेन्द्र कुमार श्री दौलतराम खमोकरिया 76%,
- बीटेक कक्षा उतीर्ण करने पर : मीनाक्षी श्री कन्हैयालाल शैर 73%,
- अन्य पुरूस्कार : जितेन्द्र कुमार श्री तेजमल बडारिया नेशनल रोल प्ले प्रथम स्थान झालावाड
- जिलास्तर विज्ञान विकास एवं जनसंख्या व विकास शिक्षा मेला : कन्नू श्री रामचरण बासीवाल नेशनल रोल प्ले, संजीव कुमार श्री अमरलाल गिरिराज श्री अमरलाल तोणगरिया राष्ट्रीय खेल पुरूस्कार
- गत वर्ष सरकारी सेवा में चयनित होने वाले विधार्थीयों को भी माला व श्रीफल से सम्मानित किया गया। जिसमें : श्री पूनमचन्द्र श्री तुलसीराम शैर द्वितीय श्रैणी अध्यापक झालावाड, श्री लोकेश श्री कृष्णगोपाल तृतीय श्रैणी अध्यापक झालावाड, श्री सुरेन्द्र श्री ताराचन्द्र राठौडिया तृतीय श्रैणी अध्यापक झालावाड, श्री दिनेश श्री लटुरचन्द बडारिया तृतीय श्रैणी अध्यापक झालावाड, श्री दिनेश श्री तृतीय श्रैणी अध्यापक झालावाड, श्री सोनू श्री तृतीय श्रैणी अध्यापक तारज, श्री बबलू श्री तृतीय श्रैणी अध्यापक तारज, श्री कमलेश खटनावलिया नर्स आयुवेर्दिक अकलेरा
- जिले से समाज का प्रथम राजपत्रित अधिकारी बनने पर डा.रवि शेर हरीगढ को दिया
- समाज सेवा का पुरूस्कार, समाज के उत्थान के कार्य करने के लिए तीन व्यक्ति सम्मानित किये जिनमें:- महाराज श्री हरीराम गिरी शेर समाज सुधारक कार्य हरीगढ, श्री श्री लाल धौलखैडिया समाज सुधारक कार्य हरीगढ, श्री ताराचन्द राठौडिया समाज सुधारक कार्य झालावाड
- रैगर समाज के मीडिया क्षैत्र में उल्‍लेखनिय योगदान के लिए इन्‍हे पुरस्‍कृत किया गया, मीडिया क्षैत्र में कार्य करने वालों में :- श्री मुकेश गाडेगावलिया पत्रिका रघुवंशी रक्षक पत्रिका जयपुर, श्री बृजेश हंजवलिया रैगर समाज बेबसाइट मन्‍दसौर (म.प्र.)

Raigar samman samaroha Jhalawar

        कार्यक्रम में मुख्य अतिथि माननीय रामचन्द्र सुनारीवाल ने सभा को सम्‍बोधित करते हुए अपने उद्भोदन में कहा कि पूरे राजस्थान में हमारे समाज की संख्या तीस लाख से ज्यादा है । यह संख्या राजस्थान की अनुसूचित जातियों में सबसे ज्यादा संख्या है । इसके बावजूद राजनितिक क्षैत्र में हमारे समाज से मात्र 2 विधायक जीत कर आये जिनमें एक विधायक आपके सामने है । इन्होने बताया की राजनितिक पार्टी से हूँ इसलिए राजनिति की बात तो करूगॉ । सुनारीवाल ने आरक्षण की बात की जिसमें कहा कि आज हमें जो आरक्षण प्राप्त है व किसी पार्टी की देन नही है । यह आरक्षण दिया है तो वह बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर की देन हे । हमें किसी से दबकर रहने की आवश्यकता नहीं है । हमें वहां जाना चाहिए जहॉ समाज का भला हो । विधायक महोदय का इशारा अपनी पार्टी की ओर था । सुनारीवाल ने बताया कि मुझे मुख्यमंत्री महोदया महारानी श्रीमती वंसुधरा राजे सिधिया व उनके पुत्र सांसद माननीय श्री दुष्यतं सिंह जी ने उस क्षैत्र से टिकिट दिया जहॉ से रैगर समाज के दो सौ वोटर भी नहीं थे । लेकिन पचास हजार से ज्यादा मतों से जीत हासिल की ओर पार्टी में रिकार्ड भी बनाया । युवाओ को संदेश देते हुए कहा कि आज शिक्षा का जमाना हे । हमें शिक्षा ग्रहण करने में कोई कमी नहीं रखना चाहिए । विधायक महोदय ने कहा कि रैगर समाज को एकता रखते हुए आगे बढना चाहियें ।

        मुख्य अतिथि विधायक महोदय की धर्म पत्नि श्रीमती सुशीला देवी सुनारीवाल ने भी मंच से हाथ जोडकर अभिवादन किया जिसे सभी ने तालियों के साथ स्वीकार किया । अध्यक्षता कर रही झालरापाटन नगरपालिका की पूर्व पार्षद श्रीमती चन्द्री बाई कासोटिया ने समाज का हाथ जोड कर धन्यवाद दिया ।
        विशिष्ट अतिथि शंकरलाल नारालिया ने कहा कि समाज के युवाओं एकजुट रहना चाहिए । श्रीमती अंजना नारोलिया ने समाज की महिलाओ को आगे लाने पर जोर दिया ।
        श्री मुकेश गाडेगावलिया ने समाज की घटनाओं की विस्तार से जानकारी दी और बताया की रघुवंशी रक्षक अखबार हमेंशा आपकी समस्याओं को खबरों के माध्यम से आगें बढाता है यह समाज का निष्पक्ष अखबार है ।
        श्री किशनलाल हंजावलिया ने कहा कि हमें ऐसे कार्यक्रम से सीख लेकर अन्य जगहो पर भी कार्यक्रमों का आयोजन करते रहना चाहिए ।
        हनुमान प्रसाद सौकरिया ने समाज में अपने अनुभवों को सुनाया। महेन्द्र कासोटिया ने युवा प्रकोष्ट में सदस्यता अभियान चलाकर सदस्ता बढाने पर जोर दिया ।
        झालवाड़ जिले के समाज के गुरू महाराज श्री हरीराम गिरी शेर द्वारा बताया कि हमे हमारे बच्चों को शिक्षा दिलानी चाहिए । इन्होने उदाहरण के तौर पर शिक्षा के परिणाम को गिनाते हुए बताया कि हमने शिक्षा पर बहुत पहले से ही ध्यान दिया तो आज मेरे शेर परिवार हरीगढ का जिले में रिकार्ड बना है । क्योंकि जिले में पहला कर्मचारी मेरा छोटा भाई पटवारी बना वह सेवानिवृत हो चुका व जिले की प्रथम महिला कर्मचारी हुई तो वह मेरी लडकी हुई और जिले का पहला राजपत्रित अधिकारी हुआ तो वह भी मेरे परिवार से ही डॉक्टर बना है और जिले में समाज का रिकार्ड बनाया । और जिले में समाज का प्रथम इजींनियर की बात करे तो लडको में व लडकीयों में दोनो रिकार्ड भी मेरे ही परिवार के खाते में जा रहे है । हरीराम जी ने बताया की मै यह सब बाते अहम से नही कह रहा हॅू । यहा पर शिक्षा की बात हो रही है इसलिए आपके सामने शिक्षा के फायदे बता रहा हॅू । आप भी अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा देगें तो आपके परिवार में भी कर्मचारी अधिकारीयों की लाइन लग जायेगी। सभी उपस्थित समाज ने इनकी बातो इनके उदाहरण को ध्यान से सुना ।
        वरिष्ठ समाजसेवी श्रीलाल धौलखैडिया ने अपना भाषण हाडौती भाषा में देते हुए बताया कि मै हमेंशा से ही कहता हुआ आया हॅू कि समाज के लोगो को एक जुटता से रहना चाहिए क्योकि एकता से ही जीत होती है । इस कार्यक्रम में अच्छे अंक लाने वाले बच्चों मे चार पौते इनके भी सम्मानीत हुए है ।
Raigar samman samaroha Jhalawar         अखिल भारतीय रैगर महासभा झालावाड़ के जिलाध्यक्ष विष्णुदयाल रैगर ने अपने अनुभवों में बताया कि मैं गत दस बारह वर्षो से समाज के कार्यक्रम व समाज सुधार के कार्य करता आया हूँ । मेंने मेरे अनुभवों में पाया कि समाज जमीनी स्तर पर एक होकर चलता है। लेकिन उच्च स्तर पर जो संगठन बन रहे वह समाज में फूट डालने का कार्य कर रहे हैं । ऐसे संगठन समाज को नरक में ले जाने का कार्य कर रहे हैं । इन्होंने अपने विचारों में कहा कि जमीनी स्तर के लोगों को (ग्राम स्तर, तहसील स्तर, जिला स्तर पर) अपने क्षेत्र के चुनाव करके अध्यक्ष तैयार करना चाहिए और जो भी अध्यक्ष निर्वाचित हो उस निर्वाचित अध्यक्ष का नाम देश में रैगर समाज की सबसे बड़ी संस्था अखिल भारतीय रैगर महासभा से जिलाध्यक्ष का प्रमाण पत्र जारी करके मनोनयन करना चाहिए ताकि सभी की पसंद का जिलाध्यक्ष माना जावेगा। इस व्यवस्था की प्रक्रिया तहत अध्यक्ष बनने क बाद भी ऊपर से किसी भी प्रकार का संगठन क्षेत्र में घुसने की कोशिश करे तो उसे क्षेत्र में घुसने नहीं देवें और बतावें कि हमारे पास हमारा निर्वाचित व मनोनित सर्वमान्य अध्यक्ष है अब हमें ज्यादा अध्यक्षों की जरूरत नहीं हैं यह कहा जावे । अगर ऐसी व्यवस्था लागू हो जावेगी तो उच्च स्तर पर लोग संगठन बनाना भूल जायेगें और समाज एकता की ओर चल पड़ेगा । विष्णु दयाल रैगर एवं इनकी टीम ने झालावाड़ जिले में अनेक कार्य किये हैं सन 2007 में न्यूयार्क प्रवासी भामासाह, सेठ भंवर लाल नवल साहब का भी दौरा कराया था जिसमें सेठ नवल ने समाज के लोगों को एक हजार कंबल वितरण किये थे और समाज को छात्रावास निमार्ण के लिए 10,00,000 रू. (दस लाख रूपये) की घोषणा करवाई थी । इन्होंने समाज में मृत्युभोज बंद कराने के लिए भी अभियान चलाया था । इस अभियान के तहत 22 मृत्युभोज रूकवाये । शिक्षा के क्षेत्र के विकास में इन्‍होंने अपना लक्ष्य बना रखा है और इनका कहना है कि समाज के बच्चों के लिए समाज का छात्रावास जिला मुख्यालय पर देखना चाहते हैं । इसके लिए इन्होंने समाज के लिए सरकार से 3 बीघा जमीन प्रस्तावित भी करवा ली है । ऐसी संभावना जताई जा रही है कि राजस्थान की मुख्यमंत्री माननीया श्रीमती वसुन्धरा राजे सिंधिया व क्षेत्र के सांसद माननीय श्री दुष्यन्त सिंह द्वारा समाज को शीघ्र ही निःशुल्क भूमि आवंटित कर दी जावेगी । जिससे समाज को विकास के मुख्यधारा में लाने के लिए सहयोग मिलेगा । विष्णु दयाल रैगर व इनकी टीम निःस्वार्थ समाज सेवा के कार्य करते आये हैं और आगे भी ऐसे ही सेवा जारी रखेगें ।
नव नियुक्त युवा जिलाध्यक्ष शंकर लाल रैगर ने बताया कि मेरा यह पहला अनुभव है मुझे बड़ी खुशी हुई है कि इतने लोगों के साथ हमारा कार्यक्रम का आयोजन सफल साबित हुआ है । झालावाड़ जिले में रैगर महासभा के जिलाध्यक्ष विष्णु दयाल रैगर ने हमें एकता के सूत्र में रखते हुए मुझे आगे बढ़ाया और युवा जिलाध्यक्ष के लिए प्रदेश अध्यक्ष शंकर लाल नारोलिया से अनुसंशा की और सफलता दिलाई इसके लिए मेरे सभी साथियों को (झालरापाटन, धनवाड़ा एवं गाँवों से आये कार्य कर्ताओं) धन्यवाद देता हूँ और ऊपर समाज के युवाओं को एकत्रित करते हुए साथ लेकर चलेगें ।
        पूर्व युवा जिलाध्यक्ष ब्रजमोहन सुन्दरपुरिया ने बताया कि इस कार्यक्रम में धनवाड़ा रैगर समाज का काफी योगदान रहा है और समाज को एकता में बाँधने का प्रयास किया जाता रहा है । कार्यक्रम में झालरापाटन, झालावाड़ और मोहल्ला धनवाड़ा व गावों के सैंकड़ों कार्यकर्ताओं का सहयोग रहा जिसमें सूरजमल पलिया, शंकरलाल बेहरलाल, बृजमोहन सुन्दरिया, राजू सुन्दरिया (ठेकेदार), दिनेश बासीवाल, शिवराज तोनगरिया, बबलू ओलण्डिया, रामप्रसाद बैरवाल, भूपेन्द्र खटनावलिया, दिनेश ओलण्डिया, जगदीश पलिया, पप्पू बैरवाल, श्रवण खमोखरिया, दिनेश सोंकरिया, रामकरण बैरवाल, बृजमोहन धोलखेड़िया, फूलचन्द चांदोरिया, महावीर शेर, महेन्द्र बडारिया, दुर्गालाल ओलण्डिया, धनराज बासीवाल, पुनमचन्द तगाया, रामदयाल तगाया, गोविन्द पलिया, रामनारायण ओलण्डिया, सुरेश कांसोटिया, रामचन्द बेरवाल, बाबूलाल बेरवाल, हुकमचन्द कांसोटिया, बाबूलाल ओलण्डिया, लक्ष्मीनारायण बेरवाल, मोहनलाल सिसवालिया, कन्हैयालाल गुणसारिया, कब्बू छोमियां, राधेश्याम चांदोलिया, निर्मल कुमार, मुरली बडारिया, हुकुमचन्द रैगर, दौलत ओलण्डिया, रामदयाल बडारिया, दिलिप ओलण्डिया, लालचन्द ओलण्डिया, कालूलाल ओलण्डिया, पप्पू चांदोलिया, सुरेश पेन्टर, भीमराज बडारिया, मनोज शेर, सुरेश सीसवालिया, भैरूलाल बसनोदिया, रंगलाल, मुकेश पलिया, पवन सिसवालिया, प्रभूलाल बासीवाल, मुकेश बेरवाल, कानू पलिया, मुकुन्द पलिया, ओमप्रकाश शेर, तेजमल बडारिया, तुलसीराम बडारिया, देवेन्द्र शेर, दिनेश रैगर ।
        महिलाओं का भी रहा योगदान : कार्यक्रम में समाज की महिलाओं ने भी बढ़-चढ़ कर भाग लिया और कार्यक्रम को सफलता दिलाई ।
        कार्यक्रम का संचालन बिरधीचन्द बजेपुरिया द्वारा किया गया ।

Bullet Hide Raigar News पाली मे ''शिक्षा प्रोत्साहन फण्ड की स्थापना'' जनवरी-2014

     रैगर समाज : रविवार को संस्था परिसर गंगा विहार पुलिस लाईन रोड़ पाली मे वर्ष 2013-14 की रूपरेखा में रैगर-जटिया समाज सेवा संस्था (पंजीकृत) की बैठक आयोजित की गई । जिसमे मुख्य अतिथि भाजपा विधायक पाली ज्ञानचंद पारख, विशिष्ट अतिथि अतिरिक्त जिला कलेक्टर सुरेश कुमार नवल, अधीक्षण अभियन्ता घनश्यामजी चौहान, वाणिज्य कर अधिकारी अनुपचंद रैगर, शाखा प्रबन्धक भारतीय स्टेट बैंक जे.पी.रैगर, भाजपा जिला अध्यक्ष महैन्द्र बोहरा आदि अतिथि रहे । बैठक में पाली से चौथी बार निर्वाचित भाजपा विधायक ज्ञानचंद पारख का साफा पहनाकर, मार्ल्यापण द्वारा स्वागत किया गया । साथ ही सभी अतिथियो का संस्था की और से मार्ल्यापणन द्वारा स्वागत किया गया । बैठक मे जे.पी.रैगर भारतीय स्टेट बैंक के शाखा प्रबन्धक, अधीक्षण अभियंता धनश्यामजी चौहान, देवेन्द्रजी दौलिया रानी द्वारा संस्था को 25100 रू. दान देकर सदस्य बनने पर इनका धन्यवाद किया गया । आम सभा कि बैठक मे उक्त के अतिरिक्त निम्न प्रस्ताव पारित किये गये ।
     1. रविदास जयंती पर रक्तदान शीवीर व मरणोपरान्त सदस्यो व परिवारवालों की आखें दान की घोषणाओं पर कार्यकारिणी निर्णय करे ।
     2. रैगर समाज स्मारिका को प्राप्त करने के लिये 100 रूपये दान सहयोग राशि के रूप में प्रत्येक से लिए जाये ।
     Raigar samman samaroha Jhalawar3. ‘‘शिक्षा प्रोत्साहन फण्ड की स्थापना‘‘ संस्था के प्रथम संस्थापक सदस्य स्वर्गीय श्री तेजाराम प्रतापजी चौहान की स्मृति में उनके सुपुत्र श्री कुशालचन्द्र चौहान द्वारा रैगर समाज के जरूरतमंद व आर्थिक रूप से कमजोर छात्र छात्राओं के शैक्षणिक उत्थान के लिये एक लाख रूपये संस्था को दान देने की घोषणा के साथ ही ‘‘शिक्षा प्रोत्साहन फण्ड‘‘ की स्थापना की जाये ।
जिसकी रूप रेखा इस प्रकार होगी ।

फण्ड में अंशदान:- रैगर समाज का कोई भी व्यक्ति, सदस्य-सदस्यता दान के अतिरिक्त या गैर सदस्य द्वारा फण्ड में न्यूनतम 50,000 रूपये या अधिक अंशदान कर सकता है ।
फण्ड का उदेश्य:- समाज के भामाशाहों द्वारा अपने या अपने परिवार के किसी भी सदस्य की स्मृति को जगाये रखने के लिए, ऐसे महानुभाव की स्मृति में जरूरतमंद छात्र-छात्राओं को छात्रवृति व अन्य शैक्षणिक सहयोग किया जाये । जिससे उक्त महानुभाव की सेवाओं को सदैव याद रखा जा सके और दानदाताओं के प्रति समाज व संस्था का सदैव सम्मान बना रहे ।
फण्ड का निवेश व अर्जित आय:- फण्ड में अंशदान/दान की गई सम्पूर्ण राशि का अलग से किसी भी राष्टीयकृत बैंक में, संस्था के नाम से, अलग सावधि जमा करवाया जाये ताकि, जिससे नियमित ब्याज की आय हो सके । प्रत्येक दानदाता द्वारा दान की राशि का, संस्था द्वारा अलग-अलग बही खाता/हिसाब रखा जाये ।
फण्ड की आय का उपयोग:- प्रत्येक वर्ष समाज के आर्थिक रूप से कमजोर व जरूरतमंद छात्र-छात्राआंे को छात्रवृति या अन्य शैक्षणिक सहयोग के रूप में, उन पर राशि खर्च की जाये । उक्त के अतिरिक्त अन्य उपयोग पर प्रतिबन्ध है ।
फण्ड का संचालन:- फण्ड का संचालन शिक्षा प्रोत्साहन समिति करेगी, जिसे इस फण्ड से सम्बन्धित सभी अधिकार प्राप्त होंगे । जो बहुमत से निर्णय कर, कार्य करेगी तथा साथ ही दानदाता को निर्णय में विशेषाधिकार प्राप्त होगा ।
जरूरतमंद छात्र-छात्राओं का चयन:- इस सम्बंध में कोई भी रैगर समाज बंधु समिति को अपने सुझाव दे सकता है । समिति का निर्णय सर्वोपरि होगा, जिसे चुनौती नहीं दी जा सकती ।
शिक्षा प्रोत्साहन समिति का गठन:- संस्था अध्यक्ष समिति का पदेन अध्यक्ष तथा संस्था सचिव कोषाध्यक्ष समिति के पदेन सदस्य रहेंगे तथा उक्त फण्ड में 50,000 रूपये या अधिक दान देने वाले दानदाता या उनके द्वारा नियुक्त प्रतिनिधी या उनके परिवार का सदस्य, समिति का सदैव सदस्य बना रहेगा । लेकिन ऐसे दानदाता या उनके द्वारा नियुक्त प्रतिनिधी की सदस्यता, उनके जीवनकाल तक सीमित रहेगी अर्थात् दान दाता के जीवन काल के बाद उसके द्वारा नियुक्त प्रतिनिधी के जीवन काल तक सदस्यता प्रभावी रहेगी अर्थात् दो बार तक । दानदाता को यह अधिकार होगा कि वह अपने द्वारा नियुक्त प्रतिनिधी को आवश्यकतानुसार बदल सकता है ।
फण्ड की समाप्ति:- यह फण्ड संस्था के जीवन पर्यन्त तक स्थायी बना रहेगा तथा इसकी समाप्ति केवल दानदाता की अनुमति से ही की जा सकती है । दानदाता का विशेषाधिकार सदैव बना रहेगा । जिसे चुनौति नहीं दी जा सकती ।
फण्ड की आय का वितरण न्याय संगत तथा दानदाता का सम्मान बना रहे:- फण्ड की आय का वितरण समाज के जरूरतमंद छात्र छात्राओं में इस प्रकार किया जाये ताकि जिस महानुभाव की स्मृति मे, फण्ड में दान दिया गया है । उन्हे पुरा सम्मान मिल सके । अर्थात् अधिक दान पर अधिमान व उचित दान पर उचित मान मिल सके । इस पर विशेष ध्यान रखा जाये ताकि न्याय संगत बना रहे ।
    4. संस्था के तत्वाधान में, संस्था का कोई भी सदस्य, संस्था कार्यकारिणी की पूर्व अनुमति से, अपने परिवार के किसी भी सदस्य की स्मृति में कोई भी पुरूस्कार देना चाहता है तो, दे सकता है । ऐसे पुरूस्कार के चयन पर, निर्णय पर उसका विशेषाधिकार रहेगा । सम्बन्धित पुरूस्कार व खर्च राशि नियत समय से दो माह पूर्व अध्यक्ष के पास जमा करवानी होगी ।
    5. वर्ष 2013 के प्रतिभा सम्मान समारोह में स्मृति चिन्ह श्री ओमप्रकाशजी भट्ट के आर्थिक सहयोग से दिये जाने की स्वीकृति प्रदान की गई ।
    6. संस्था भूमि के रास्ते की जानकारी देने के लिये साईन बोर्ड पारसमलजी मौर्य द्वारा लगाये जाने की स्वीकृति प्रदान की गई ।
    7. संस्था के मुख्य द्वार को बड़ा बनाने, ऊंचा करने तथा संस्था परिसर में कमरा व पानी का हौद/टैंक निर्माण का अधिकार कार्यकारिणी को दिया गया ।
    8. संस्था द्वारा समाज से सामुहिक दान प्राप्त करने पर प्रतिबंध लगाया गया अर्थात् सामुहिक दान की रसीद न दी जाये ।
उक्त समस्त निर्णय सर्व-सम्मति से पारित किये गये ।


     उक्त के अतिरिक्त सदस्य नन्दकिशोरजी बालोटिया ने प्रथम प्रस्ताव रखा कि अध्यक्ष के निर्वाचन में 15 प्रतिशन समर्थन सम्बधी नियम हटाया जाय । इस पर नंदकिशोरजी बालोटिया के प्रस्ताव के समर्थन में एकमात्र स्वय तथा शेष उपस्थित सभी सदस्यों ने इस प्रस्ताव पर अपनी असहमति प्रकट की । जिससे प्रस्ताव खारिज किया गया ।
     नन्दकिशोरजी बालोटिया ने द्वितीय प्रस्ताव रखा कि कार्यकारिणी के सभी सदस्यों का चुनाव कराया जाये । इस पर प्रस्ताव के पक्ष में नन्दकिशोरजी बालोटिया, ओमप्रकाशजी सिघाडिया, छगारामजी सिघाडिया ने समर्थन किया जबकि उपस्थित शेष सभी सदस्यो ने प्रस्ताव पर असहमति प्रकट की । जिससे प्रस्ताव खारिज किया गया ।

 


वर्ष 2013 की खबरें पढ़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करे .............


वर्ष 2012 की खबरें पढ़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करे .............


Raigar Cast News Zone

पेज की दर्शक संख्या : 9890