युवा प्रकोष्‍ठ – मध्‍य प्रदेश कार्यकर्ता सम्‍मेलन सम्‍पन्‍न

अखिल भारतीय रैगर महासभा (पंजी.) युवा प्रकोष्‍ठ – मध्‍य प्रदेश के तत्‍वाधान में रैगर समाज युवा कार्यकर्ता सम्‍मेलन दिनांक 14 फरवरी 2016 को नीमच शोरूम चौराहा स्थित नेहरू पार्क में आयोजित किया गया । सम्‍मेलन में समाज के युवाओं को जागरूक करना, रैगर समाज की नि:शुल्‍क परिवारिक जनगणना के प्रगणक नियुक्ति किये गए, युवाओं के माध्‍यम से समाज उत्‍थान की कार्ययोजना बनाना, अविवाहित युवक/युवती परिचय सम्‍मेलन आयोजन के लिए उनके फार्म जनगणना के साथ ही भरना, जिला कार्यकारिणी का गठन व तहसील अध्‍यक्षों की नियुक्ति की गई । सम्‍मेलन के मुख्‍य अतिथी श्री मांगीलाल जी जैलिया (योग गुरू) उदयपुर, विशिष्‍ठ अतिथि श्री सूरजमल जी बोकोलिया प्रदेश अध्‍यक्ष – अखिल भारतीय रैगर महासभा (म.प्र.) एवं कार्यक्रम की अध्‍यक्षता वरिष्‍ठ समाज सेवक श्री पन्‍नालाल जी फुलवारिया, सावन की रही । सम्‍मेलन में युवाप्रकोष्‍ठ के प्रदेश अध्‍यक्ष श्री ब्रजेश हंजावलिया ने जनगणना से सम्‍बंधीत विस्‍तृत जानकारी विस्‍तार से प्रदान की, उन्‍होंने जनगणना हेतु प्रत्‍येक गांव/शहर हेतु प्रगणक व तह‍सील स्‍तर पर प्रभारी नियुक्ति की गई । युवा प्रकोष्‍ठ के नीमच जिलाध्‍यक्ष बाबू मांदोरिया व मंदसौर जिलाध्‍यक्ष प्रवीण बोकोलिया ने अपनी जिला कार्यकारिणी का गठन कर तहसील अध्‍यक्ष नियुक्‍त किये । इस अवसर पर अखिल भारतीय रैगर महासभा युवा प्रकोष्‍ठ के राष्‍ट्रीय उपाध्‍यक्ष बनने पर श्री प्रो. जगदीश खटनावलिया, बघाना एवं विधि सलाहकार व अनूसुचित जाति योजना सलाहकार के रूप में मोहनलाल हिनोणिया, कनगट्टी के मनोनय पर हार्दिक शुभकामनाए दी गई । उदयपुर से पधारे मांगीलाल जी जैलिया ने युवाओं के लिए आजस्‍वी भाषण दिया । इस अवसर पर राजेश मांदोरिया (पूर्व पार्षद), प्रो. दशरथ जलुथरिया, सूरजमल बोकोलिया, धीरज मंडोरिया, सोहनलाल जी तालचड़िया (प्राचार्य), मनोहर लाल जी धोलपुरिया, सुरेश मांदोरिया, रमेश खटनावलिया, मनीष मांदोरिया आदि ने समाज को सम्‍बोधित किया । बैठक में समाज विकास के विभिन्‍न बिन्‍दुओं पर चर्चा करके आगामी रणनीति तय की जाने पर चर्चा की गई व आगे की कार्य योजना के तहत जनगणना को गति प्रदान करने हेतु सभी जगह जनगणना अपील के पेम्‍पलेट (पर्चे) बांटे गए व आगामी समय में तहसील स्‍तर पर जाकर जनगणना प्रगणकों को नियुक्‍त कर उन्‍हे प्रशिक्षण देकर जनगणना करने की कार्य योजना को क्रियांवित करने की रूप रेखा तैयार की गई। कार्यक्रम का संचालन प्रो. जगदीश खटनावलिया ने एवं आभार रमेश जी खटनावलिया ने व्‍यक्‍त किया ।

Leave a Reply