वृहद्र रैगर सम्मेलन मसूदा ( अजमेर)- 1949

प्रान्‍त में अजमेर राज्‍य रैगर सभा की ओर से 25-5-51 को एक वृहद् सम्‍मेलन श्री शलिग्राम मन्दिर प्रतिष्‍ठा के शुभावसर पर हुआ जिसका उद्घाटन अमृतलाल यादव डिप्‍टी मिनिस्‍टर राजस्‍थान सरकार एवं सभापतित्‍व श्री मुकुटबिहारीलाल भार्गव एम.पी. ने किया । मन्दिर में मूर्ति स्‍थापना तथा कलश ध्‍वजारोहण श्री 108 महाराज पूज्‍यनीय श्री ज्ञानस्‍वरूप जी के कर कमलों द्वारा किया गया । तत्पश्‍चात् महाराज जी की अध्‍यक्षता में ही एक विशाल पंचायत का आयोजन किया गया जिसमें स्‍थानीय जातीय सुधार सम्‍बंधी प्रस्‍ताव पास किए गए । उदाहरणार्थ कुछ पारित प्रस्‍तावों का उल्‍लेख कर देना आवश्‍यक बन जाता है –

 

1. शराब पीना बिल्‍कुल बंद जो पियेगा कम से कम 51 रूपयें दण्‍ड होगा ।

2. मुर्दा मवेशी (मरे ढोर) की खाल निकालना बिल्‍कुल बंद कर दिया जो कोई करेगा उसको 101 रूपये तक का दण्‍ड दिया जा सकेगा ।

3. यह सम्‍मेलन पुरानी जूती की मरम्‍मत करना टाका लगाना बिल्‍कुल बन्‍द करता है साथ ही अन्‍य कार्यों को करते रहने की स्‍वीकृति देता है लेकिन उसकी मजदूरी नकद लेना ही उचित समझाता है । अत: इस प्रस्‍ताव को जो भाई नहीं मानेगा वह जाति का कसूरवार होगा एवं उसको 101 रूपये तक दण्‍ड किया जा सकेगा ।

 

उपरोक्‍त कुछ पारित प्रस्‍तावों को देखने से यह नितांत स्‍पष्‍ट हो जाता है कि यह प्रान्‍तीय सम्‍मेलन स्‍थानीय कार्यकर्ता को सुधार सम्‍बंधी कार्यों के प्रति सजग एवमं जागरूक बनाए रखने के लिए महत्‍वपूर्ण है ।

 

 

 

 

 

 

 

(साभार- रैगर कौन और क्‍या ?) buy Kamagra Flavored online, acquire Zoloft.